मनुष्य की आंख कितने मेगापिक्सल की होती है, हम कितनी दूर तक देख सकते हैं?

मनुष्य की आंख कितने मेगापिक्सेल ही होती है :

जब भी आप मोबाइल शॉप पर नई मोबाइल खरीदने जाते है तो सबसे पहले आप क्या देखते है ? शायद उस मोबाइल में कितने मेगापिक्सेल की कैमरा लगा हुआ है ये चेक करते होंगे। मानव नेत्र भी एक कैमरे की तरह है, तो क्या कभी आपके मन में ये बात आया कि मानव नेत्र कितने मेगापिक्सल का होता है ?

हम कितने दूर तक देख सकते हैं। आज इसी विषय में साइंस के अनुसार जानने की कोशिश करेंगे मानव की आंख के बारे में की मानव की आंख कितने मेगापिक्सल की होती हैं। तो आइये इसके बारे में जानते हैं विस्तार से।

आपको बता दें की मनुष्य की दोनों आँखे मिलकर चारों तरफ के दृश्य की छवि मस्तिष्क में पहुँचती है वो कुल मिलाकर एक बहुत बड़े क्षेत्र की छवि बनाता है। वैज्ञानिकों के शोध के अनुसार एक साधरण मनुष्य की आखों में 24 हजार इनटू यानि 24 हजार पिक्सल होते हैं जो 576 मेगापिक्सेल के बराबर है।

हम किसी वस्तु को कैसे देख पाते है?

विज्ञान में आपने पढ़ा होगा कि जब प्रकाश किसी चीज से टकराकर हमारी आँखों की रेटिना पर पड़ता है, तो उस चीज का प्रतिबिम्ब आँख की रेटिना पर बनता है। और रेटिना पर बनने वाले प्रतिबिम्ब संवेदनाओं द्वारा हमारे मस्तिष्क तक पहुँचता है। जिससे हमें पता लगता है कि हमारी आंख के सामने कौन सी वस्तु है।

आंख के कार्यप्रणाली को देखते हुए ही वैज्ञानिकों ने कैमरा का आविष्कार किया है। कैमरा भी बिल्कुल उसी तरह काम करता हैं। इस तरह इंसान की आंख काम करती हैं। अब अगर मान लिया जाय कि मनुष्य का नेत्र कैमरे के समान है तो कैमरा की गुणवत्ता उसके मेगापिक्सेल के द्वारा माप सकते है। मानव का स्वस्थ आंख 24 हजार पिक्सल होते हैं जो 576 मेगापिक्सेल के बराबर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *