पाकिस्तान में ज्यादा रहूंगी खुश- आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान का बयान

बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान अपनी बेबाक टिप्पणी के लिए जाने जाते हैं। देश के किसी भी मसले पर होगा खुलकर अपनी राय रखती हैं। ट्रोलर्स को ज़बाब देते हुए उन्होंने कहा कि कभी-कभी मैं सोचती हूं कि हां, मुझे पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए। में वहां ज्यादा खुश रहूंगी । ऐसी बातें उन्होंने क्यों कही, यह बात हम आपको आगे बताएंगे।

पाकिस्तान में रहूंगी खुश

दरअसल सोनी राजदान ने अपनी फिल्म नो फादर्स इन कश्मीर के प्रमोशन को लेकर एनबीटी को एक इंटरव्यू दिया था। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं जब भी कुछ बोलती हूं तो ट्रोल का हिस्सा बन जाती हूं, मुझे देशद्रोही करार दे दिया जाता है। कभी-कभी मैं सोचती हूं कि हां मुझे पाकिस्तान ही चले जाना चाहिए और में वहां ज्यादा खुश रहूंगी, वहां का खाना भी बहुत अच्छा है।

यह भी पढ़ें- ट्रोलर्स को आलिया भट्ट का जवाब, कहा- मैं पसंद नहीं तो मेरी फिल्म मत देखो

सोनी राजदान ने कहा कि अब लोगों ने ही मुझे ट्रोल किया और कहा कि पाकिस्तान जाओ, इसलिए मैं पाकिस्तान जाऊंगी, मैं अपनी मर्जी से छुट्टियां मनाने पाकिस्तान जाऊंगी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि रूस के पाकिस्तान भेजने वाली बात से उन्हें ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है।

 हिन्दू देश बनने के खिलाफ

सोनी राजदान ने अपने बयान में कश्मीर को लेकर काफी कुछ कहा। कहा कि कश्मीर में अब वहा बैलेंस वाली बात नहीं रहे जैसे पाकिस्तान में बैलेंस नहीं है। देश की मौजूदा हालात पर बात करते हुए सोनी ने कहा कि मैं भारत के पूरी तरह हिंदू देश बनने की बहुत ज्यादा खिलाफ हूं। मेरे लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि पाकिस्तान में मिलाजुला कल्चर नहीं है इसलिए वह बेहतर देश नहीं बन सका। देश की आलोचना करना देश को बेहतर बनाता है और किसी भी देश की ग्रोथ के लिए जिस तरह उसकी अच्छाई जाना और बात करना जरूरी है ठीक उसी तरह उसकी बुराई को जानना तथा बात करना जरूरी है।

बता दें कि सोनी राजदान की फिल्म नो फादर्स इन कश्मीर में उनके अलावा कुलभूषण खरबंदा, अंशुमन झा, अश्विन कुमार तथा शिवम कुमार भी अहम भूमिका में है। यह फिल्म कश्मीर के दो किशोर बच्चों के इर्द-गिर्द घूमती है जो अपने गुमशुदा की तलाश कर रहे। इस फिल्म को अश्विन कुमार ने डायरेक्ट किया था और 5 अप्रैल को सिनेमाघर में रिलीज हुई थी।