anupama

स्टार प्लस के शो अनुपमा (Anupama) में नया ट्विस्ट आ गया है। आखिरी एपिसोड में अनुपमा ने वापस शाह हाउस कभी लौटने का नहीं ठाना हैं। एपिसोड की शुरुआत में अनुपमा किंजल से कहती है कि वह शाह के घर नहीं जाएगी, लेकिन जब भी उसे उसकी जरूरत होगी, वह हमेशा उसके लिए रहेगी। जिसपर किंजल उससे कहती हैं की वो उसे अकेला नहीं छोड़े इतना सुनने पर अनुपमा उससे हिम्मत नहीं हारने को कहती हैं और कहती हैं की पूरा शाह परिवार और उसका अजन्मा बच्चा भी उसका ख़ूब समर्थन करते हैं। और जब भी वो अकेला महसूस करे अपने बच्चे से बात करे।

इतना कहते ही वो लीला को याद दिलाती हैं की कैसे जब पाखी होने वाली थी तो उसने अपने अमेरिका जाने को कैंसल कर पाखी के लिए यहां रुकी थी। कैसे उसने अपने डांसिंग को किनारे कर अपनी बेटी के लिए सबकुछ त्याग दिया और इतना सब कुछ करने के बाद जो पाखी ने उसके लिए किया है उसका कोई जवाब नहीं है। इसके बाद वो काव्या से वनराज के बारे में ये कहती नज़र आती हैं की कभी भी उनके रिश्ते को महत्व नहीं दिया, पुरुषों को रिश्ते के अर्थ के बारे में एक लंबी व्याख्या दी, और जब पाखी ने उसे अपनी जगह दिखाई तो उसका समर्थन करने के लिए काव्या को थैंक्यू कहा जिसपर काव्या ने उसे जीवन के अर्थ को समझाने के लिए थैंक कहा और ये भी कहा की वो उससे बहुत प्यार करती है।

अनुपमा आगे कहती है कि वह जानती है कि काव्या भी एक बच्चा चाहती हैं। जिसपर काव्या कहती हैं कि अनुपमा उसके दर्द को समझती हैं जिसे कोई नहीं समझता। अनुपमा कहती है कि अगर यह उसके हाथ में होता, तो वह उसे अपना बच्चा पैदा करने का आशीर्वाद देती, लेकिन अपनी बेटी को अच्छा इनाम देने के बाद वह नहीं कर सकती। वह काव्या से किंजल की देखभाल करने के लिए कहती है।

वह फिर पाखी को संबोधित करती है और कहती है कि एक माँ अपने बच्चे के लिए खुशी-खुशी अपना बलिदान दे सकती है। वह प्यार से पाखी को गले लगाती है। जिसपर पाखी चिढ़ा हुआ महसूस करती है। अनुपमा कहती है कि वह इस घर में कभी नहीं लौटेगी।
वहीं दूसरी तरफ़ छोटी अन्नू हंसमुख के साथ लौटती हैं जिसपर अनुज उससे पूछता है की वो कहा थी। इतने पर हंसमुख उससे पानी लाने को कहता और अनुज उससे सारी बातें बताता है और कहता हैं की उससे जो भी भूल हुई हो उसके लिए उसे माफ कर दे। हंसमुख ने उसे अपनी पत्नी के लिए स्टैंड लेने के लिए सबाशी दी है।