आजकल पहाड़ी इलाकों में लगातार बरसात के साथ बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। शादी का सीजन भी है तो ऐसे में लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ख़बर हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले से हैं जहां बर्फबारी के कारण सड़कें बंद पड़ी थी। तो ऐसे में दुल्हन लेने जाना चुनौतीपूर्ण था। लेकिन सात जन्म साथ निभाने की रस्म अदा करने के लिए दूल्हा जेसीबी मशीन लेकर दुल्हन लेने उनके घर पहुंच गया।

दरअसल सिरमौर जिले के संगड़ाह गांव से रविवार सुबह रतवा गांव के लिए बरात रवाना हुई थी। बर्फबारी के चलते सड़क बंद होने से बरात डलयाणू तक ही जा पाई। अब इससे आगे जाने के दुल्हे के पिता को जेसीबी मशीन का सहारा लेना पड़ा। दुल्हे का पिता जगदीश सिंह समेत दूल्हा विजय प्रकाश, भाई सुरेंद्र, पिता जगत सिंह, भागचंद व फोटोग्राफर जेसीबी में बैठकर कर 30 किलोमीटर सफर तय कर रतवा गांव पहुंचे।

बर्फबारी के चलते बंद था गत्ताधार संगड़ाह मार्ग

हालांकि बरात को मुहूर्त के हिसाब से आठ बजे प्रात: निश्चित समय पर पहुंचना था, लेकिन गत्ताधार संगड़ाह मार्ग पर भारी बर्फबारी के चलते उन्हे वाया शिलाई, पांवटा साहिब मार्ग से बारात ले जानी पड़ी। इसमें भी कई जगह पैदल चलना व गाड़ियों को बदलना पड़ा। जो सफर दो घंटे में तय करना था, वह मार्ग बंद होने के कारण लगभग 12 घंटे में पूरा हुआ।

Leave a comment

Your email address will not be published.