रुद्रपुर: ट्रासपोर्ट एजेंसी की आड़ में नशा तस्करी, 1 करोड़ का गांजा बरामद

पिछले कुछ सालों से उत्तराखंड में अवैध नशे का कारोबार गांव-2 तक पहुंचने लगा है। मैदानी या पहाड़ी क्षेत्र हर जगाह नशे का कारोबार पैर पसार रहा है और नशा तस्कर युवाओं को अपना शिकार बना रहे हैं। कुमाऊं क्षेत्र में तो यह धंधा तेजी से फैल रहा है। हांलांकि पुलिस कार्रवाई तो कर रही है, फिर भी ऐसे अवैध नशे के कारोबार पर अंकुश नहीं लगा पा रहा है। बीते दिन हल्द्वानी में जहां 51 लाख की स्मैक पकड़ी गई तो वहीं रुद्रपुर में 1 करोड़ का गांजा बरामद हुआ।

1 करोड़ का गांजा बरामद

रुद्रपुर क्षेत्र में पुलिस और एसओजी टीम की चैकिंग के दौरान RFC गोदाम के पास चौकी क्षेत्र रम्पुरा में सघन चेकिंग अभियान RFC गोदाम के बाहर आँचल पशु निर्माणशाला के ठीक सामने वाहन DL-8CCB-4444 में चैकिंग की गई, तो वाहन के अन्दर सीटों के नीचे अलग से एक केबिन बनाकर नटबोल्ट लगाकर केबिन के अन्दर कुल 36 पैकेट अवैध गांजा बरामद हुआ, जिसे तोलने पर वजन करीब 1 कुतंल आया।  जिसकी कीमत करीब 1 करोड़ आंकी गई है।

 

पुछताछ में आरोपियों द्वारा बताया गया कि हम लोग पहले भूरारानी निवासी राजेश शाहनी उर्फ पेन्टर का गांजा बेचते थे फिर हमने अपना काम शुरु कर दिया और अब खुद उड़ीसा के मलकान गिरी नामक स्थान से खुद कामेश्वर अजमेरा व निरंजन उर्फ निखिल से गांजा खरीदकर लाकर यहाँ रुद्रपुर, ट्राजिट कैम्प, दिनेशपुर, गदरपुर, हल्द्वानी आदि स्थानों पर ऊचे दामों पर बेचते है। पूर्व में भी यह लोग इस तरह कई चक्कर गांजा ला चुके हैं। गाँजे में दीपक गाईन व तारक बराबर के पार्टनर है।

गिरफ्तार आरोपी

  1.  दीपक गाईन पुत्र ज्ञानेन्द्र गाईन निवासी शिवनगर ट्राजिट कैम्प ऊधमसिंहनगर
  2. तारक गाईन पुत्र अन्नत गाईन निवासी अमृतनगर दिनेशपुर ऊधमसिंहनगर
  3. राकेश कुमार मण्डल पुत्र महेन्द्र मण्डल निवासी रविन्द्रनगर ट्राजिट कैम्प ऊधमसिंहनगर
  4. राजेश मण्डल पुत्र रंजीत मंडल निवासी वैकुण्ठपुर न.-6 शक्तिफार्म सितारगंज ऊधमसिंहनगर

आरोपितों द्वारा वाहन को आवास विकास निवासी जावेद मिस्त्री से माडीफाई करवाया गया है। राकेश मंडल व राजेश मंडल 15-15 हजार में उक्त वाहन में ड्राईवर बनकर उडीसा गये थे। पुछताछ में पता चला कि तारक गाईन की दिनेशपुर में गाईन ट्रासपोर्ट टूक एण्ड ट्रेवल्स नाम से ट्रासपोर्ट है और बरामदा वाहन दीपक उसी ट्रांसपोर्ट में चलाता है। पुलिस द्वारा आशंका जताई जा रही है कि तारक गाईन अपने अन्य वाहनों का प्रयोग भी गांजा लाने में करता था, जिसकी जाँच की जा रही है। सभी आरोपियों के खिलाफ थाना- रुद्रपुर में एसओजी प्रभारी की ओर से FIR NO-10/22 धारा-8/20/60 NDPS ACT पंजीकृत किया गया।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: ऑनलाइन जहर मंगाकर युवक ने खत्म की जिंदगी, FLIPKART के खिलाफ केस दर्ज 

Leave a comment

Your email address will not be published.