उत्तराखंड

रोती महिला पुलिसकर्मी, जलता शहर… हल्द्वानी में अवैध मदरसे हटाने पर उग्र हुई भीड़

दरअसल हल्द्वानी स्थिति बनभूलपुरा में गुरुवार को सरकारी जमीन पर अवैध कब्जों को हटाने गई पुलिस ने कार्यवाही शुरू की तो अराजक ने पुलिस पर जानलेवा हमला बोल दिया।

हल्द्वानी. नैनीताल हाईकोर्ट ने अवैध निर्माण को हटाने के सख्त निर्देश दिए हैं। कोर्ट के आदेश का पालन करने गए पुलिस प्रशासन पर जानलेवा हमले की खबरें आ रही है। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने एक आपातकालीन बैठक बुलाकर शहर में कर्फ्यू लगा दिया है। साथ ही दंगाइयों पर यूएपीए के तहत कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं।

हल्द्वानी स्थिति बनभूलपुरा में गुरुवार को सरकारी जमीन पर अवैध कब्जों को हटाने गई पुलिस ने कार्यवाही शुरू की तो, शांतिदूतों ने पुलिस पर जानलेवा हमला बोल दिया। मामला सरकारी जमीन पर अवैध रूप से मदरसे और नमाज पढ़ने का स्थान बनाने का है जो आज न्यायालय के आदेश के बाद ध्वस्त किया जाना था। लेकिन कट्टरपंथियों ने देखते ही देखते पुलिस पर पत्थराव करने लगी। इस दौरान 20 पुलिसकर्मियों के घायल होने की सूचना है। जिनमें एक महिला पुलिसकर्मी भी शामिल है।

हल्द्वानी दंगा
फोटो: हल्द्वानी में अवैध निर्माण के दौरान हुई हिंसा की | दाईं ओर उत्तराखंड पुलिस की टूटी हुई गाड़ी | बाईं ओर रोती हुई महिला पुलिसकर्मी

 

हल्द्वानी डीसीपी अभिनव कुमार ने बताया कि कुछ अराजक तत्वों द्वारा पुलिस पर पथराव किया गया, जिनमें से कुछ को चिन्हित किया गया है।

दंगाइयों को गोली मारने के आदेश

सीएम धामी की अध्यक्षता में आयोजित हुई आपातकालीन बैठक में पूरे शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है। साथ ही दंगा करने वालों के विरुद्ध UAPA के अंतर्गत कार्रवाई करने के सख्त आदेश दिए गए हैं।

Editorial

This article was written by the Hindu Live editorial team.
Back to top button