यूपी विधानसभा चुनाव के बढ़ती सरगर्मियों के बीच एक गाने ने धमाल मचाया था। सिंगर नेहा सिंह राठौर का गाना ‘यूपी में का बा’ ने सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया था। अब उत्तराखंड में भी “का बा” का शोर सुनाई देना लगा है, पर आपको बता दें कि यह कोई गाना नहीं बल्कि एक कविता है।

यह भी पढ़ें- गौरवान्वित पल: उत्तराखंड की बसंती बहन का मन की बात में पीएम मोदी ने किया जिक्र

हरिद्वार के सत्यदेव सोनी (सत्य) द्वारा रचित उत्तराखंड में का बा के माध्यम से उत्तराखंड के बारे में जानकारी दी गई है। जो लोगों को खुब भा रही है। कविता के जरिए सरकार पर हल्के फुल्के अंदाज में तंज कसा गया है। वहीं भाजपा के तीनों मुख्यमंत्रियों का भी जिक्र किया है।

कविता

बदरी केदार बा, गंगा के धार बा।

उत्तराखंड देवभूमि यहीं हरिद्वार बा।

धाम यहां चार बा, पुण्य भूमि सार बा।

तीरथ त्रिवेंद्र यहां, धामी सरकार बा।

टिहरी गढ़वाल बा, झील नैनी ताल बा।

मसूरी में मेला लागे, यहां हर साल बा।

सीधे साधे लोग बा, छप्पन हैं भोग बा।

रामदेव कर रहे, बैठे हुए योग बा।

मनसा मां चंडी बा,नागा साधु दंडी बा।

महाकुंभ नगरी ये, रहती अखंडी ‌बा।

नीलकंठ भोला बा, सीधा साधा चोला बा।

अद्भुत ऋषिकेश, देख मन डोला बा।

हिमगिरि का माथ बा, गोमुख का साथ बा।

जीवन संवार रही, जल औषधि हाथ बा।

आदर सत्कार बा, प्रकृति के दुलार बा।

सबसे हो निश्छल, उत्तराखंड के प्यार बा।