उत्तराखंड: चुनावी माहौल में “पर्ची लाओ पेटी ले जाओ”
प्रतीकात्मक चित्र

विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत अवैध शराब की बिक्री को लेकर पुलिस-प्रशासन का काफी सख्त दिखाई दे रहा है। पुलिस व आबकारी विभाग की टीम शराब तस्करों पर अपनी नजर बनाए हुए है। राज्य के अलग-अलग हिस्सों से शराब और नगदी बरामद की जा रही है। इसी बीच किच्छा में शराब तस्करी का अलग ही तरीका ढूंढ निकाला। जहां प्रशासन की पीठ पीछे पर्ची लाओ और पेटी ले जाओ के नायाब तरीके से शराब की बांटी जा रही है। फिलहाल प्रशासन ने कार्रवाई करते हुए शराब की दुकान को सील कर दिया है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: भाजपा नेता से नाराज़ अल्पसंख्यक मोर्चे के जिलाध्यक्ष ने पार्टी से दिया इस्तीफा

बीते गुरुवार को किच्छा रोडवेज बस स्टेशन के पास स्थित अंग्रेजी शराब की दुकान में पर्ची लाओ पेटी ले जाओ के तहत शराब बांटी जा रही है। जिसकी सूचना मिलते ही एफएसटी मजिस्ट्रेट गजेंद्र कुमार पुलिस फोर्स के साथ वहां पहुंचे तो कुछ लोग पर्ची देकर शराब की पेटी खरीदते दिखे। पुलिस को देखते ही सभी लोग पेटी छोड़कर भाग गए। दुकान के सेल्समैन से इस बारे में पुछताछ करने पर वह कोई ज़बाब नहीं दे पाए और ना ही उन्हें कोई खास जानकारी दी। एफएसटी प्रभारी की देख रेख में पुलिस ने शराब की दुकान को सील किया। बरामद पर्ची किस राजनीतिक दल की थी इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। रिटर्निंग अधिकारी कौस्तुब मिश्रा ने कहा कि वोटरों को लुभाने के लिए शराब बांटने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।