उत्तरप्रदेश: मुरादाबाद में जांच के लिए गए डाक्टर और एंबुलेन्सकर्मी पर हमला

Attack on doctor and ambulance worker in Moradabad for investigation

Hindu Live Desk: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कोरोना जांच के लिए गई मेडिकल टीम पर हमला हुआ है. यह घटना जिले के नागफनी थाने के हाजी नेब की मस्जिद इलाके में हुई है. बताया जा रहा है कि कोरोना पॉजिटिव शख्स सरताज की दो दिन पहले हुई मौत के बाद आज इलाके में मेडिकल टीम स्वास्थ्य परीक्षण करने के लिए पहुंची थी. इस दौरान उन पर हमला कर दिया गया.

Attack on doctor and ambulance worker in Moradabad for investigation

सोमवार को इसी इलाके के एक शख्स की मौत हो गई थी जो कोरोना संक्रमित था। उनके परिवार को तत्काल क्वारंटीन कर दिया गया था, लेकिन आज उनके संपर्क में आने वाले कुछ और लोगों को भी क्वारंटीन किया जाना था। इसी के लिए दोपहर करीब दो बजे टीम वहां पहुंची थी। इस दौरान उन पर हमला कर दिया गया। ताजा जानकारी के अनुसार इस हादसे में एंबुलेंस कर्मियों के साथ डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ घायल हैं।

जानकारी के मुताबिक मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गई है और भीड़ को हटाने की कोशिश की जा रही है. इस घटना को लेकर एंबुलेंस ड्राइवर का कहना है कि कुछ लोगों ने मेडिकल टीम और पुलिस पर पथराव किया, जो संभावित रूप से संक्रमित को लेने के लिए गए थे. जब हमारी टीम मरीज के साथ एम्बुलेंस में सवार हुई, अचानक भीड़ आई और पथराव शुरू कर दिया, कुछ डॉक्टर अभी भी घायल हैं.

मुरादाबाद में स्वास्थ्य विभाग की टीम पर हुए हमले को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंभीरता से लिया है. उन्होंने दोषी व्यक्तियों के खिलाफ आपदा नियंत्रण अधिनियम और राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA) के तहत कार्रवाई का आदेश दिए हैं. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि तोड़फोड़ में हुए संपत्ति के नुकसान की भरपाई दोषियों से ही की जाए.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लेते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर्स व कर्मी, सभी सफाई अभियान से जुड़े अधिकारी/कर्मचारी, सुरक्षा में लगे सभी पुलिस अधिकारी और पुलिसकर्मी इस आपदा की घड़ी में दिन रात सेवा कार्य में जुटे हैं. इन पर हमला एक अक्षम्य अपराध है, जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है.