संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का आठवीं बार अस्थाई सदस्य बना भारत

हिन्दू लाइव डेस्क :– संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ( UNSC ) द्वारा भारत को आठवीं बार अस्थाई सदस्यय चुन लिया गया. जिसकी सूचना भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके दी साथ मेंं ही संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का धन्यवाद भी किया. वर्ष 2021-22 के लिए भारत सुरक्षा परिषद के अस्थाई सदस्य के तौर पर मौजूद रहेंगे.

इससे पहले भी भारत 7 बार यह जिम्मेदारी निभा चुका है . 8 साल के लंबे अंतराल के बाद भारत को आठवीं बार सुरक्षा परिषद में पहुंचना काफी अहम है. इससे पहले 2011-12 में भारत यह जिम्मेदारी निभा चुका है. भारत पहली बार 1950 में गैर स्थाई सदस्य के लिए चुना गया था.

यह भी पढ़े :- सलमान खान, करण जौहर समेत आठ लोगो पर दर्ज हुई एफआईआर

5 देशों को स्थाई सदस्यता प्राप्त

संयुक्त राष्ट्र परिषद संयुक्त राष्ट्र का सबसे महत्वपूर्ण अंग है जो पूरे विश्व में शक्ति संतुलन बनाने का काम करता है. सुरक्षा परिषद में 5 देश स्थाई तथा 10 अस्थाई सदस्य हैं. पांच स्थाई सदस्य में अमेरिका, फ्रांस, रूस, ब्रिटेन और चीन है.

यह भी देखें :- भारत चीन संघर्ष: प्रधानमंत्री मोदी ने सेना को दी ‘इमरजेंसी पावर’, पढ़ें पूरी ख़बर

128 वोट की जरूरत थी

भारत को स्थाई सदस्य चुने जाने के लिए 128 वोटों की जरूरत थी. भारत को यह उम्मीद पहले से थी, कि इस सुरक्षा परिषद के इस चुनाव में आसानी से जीत मिल जाएगी. भारत के पक्ष में 192 वोटों में से 184 वोट पड़े. सदस्य बनने के लिए भारत को 128 वोटों की जरूरत थी

भारत को इससे पहले 1950-51, 1967-68, 1972-73, 1977-78, 1984-85, 1991-92 और 2011-12 में गैर स्थाई सदस्य चयनित किया जा चुका था.

दो साल की अवधि के लिए भारत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य निर्वाचित किया गया.