LAC पर चीन ने तैनात किये 20,000 सैनिक, भारत भी हरकत में

71
भारत चीन विवाद

हिन्दू लाइव डेस्क :- भारत चीन सीमा पर वाद विवाद कभी थमने का नाम नहीं लेे रहा. 15 16 जून को हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए. जिसके बाद से ही भारत चीन की सीमा पर हलचल तेज हो गई. 22 जून को चुशूल के निकट चीन केे मोल्डो इलाके में कमांडर स्ततर की बैठक हुई थी.

LAC पर हो रही हलचल पर भारत लगातार नजर बनाए हुए रखे हैं. प्राप्त जानकारी के अनुसार चीन ने एलएसी पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी 20,000 से अधिक सैनिकों की तैनाती की है. चीन की इन हरकतों को देखकर भारत ने भी अपनी दो डिवीजन को तैनात कर दिया है.

यह भी देखें :- उत्तराखंड सरकार ने अस्पतालों में आइसीयू स्थापित करने के लिए दी 1267 लाख रुपए की मंजूरी

चीन और भारत के मध्य पिछले 6 सप्ताह से बातचीत चल रही है, परंतु इस समय पर भी चीन ने सीमा पर ना ही सैनिकों की संख्या घटाई और ना ही कोई उपकरण में कमी की गई है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार उत्तरी शिनजियांग प्रांत में 10000 सैनिक तैनात किए गए हैं. और पूर्वी लद्दाख क्षेत्र LAC सीमा में लगभग 20,000 सैनिकों की तैनाती की है.

सीमा पर हो रही गतिविधियों को देखते हुए भारत ने पूर्वी लद्दाख क्षेत्र के आसपास दो डिवीजन को तैनात किया है जिसमें एक आरक्षित माउंटेन डिवीजन है, जो हर वर्ष पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में अपना युद्ध अभ्यास करती है.

यह भी पढ़े :- उत्तराखंड में शुरू हुई चार धाम यात्राएं, केवल उत्तराखंड वासी ही कर पाएंगे दर्शन

राजनीतिक और सैनिक बातचीत होने के बाद भी अभी हालात सुधारने के लक्षण नहीं लग रहे हैं. भारत में अभी अपनी पूरी तैयारी करने में जुटा हुआ है. भारत और चीन के बीच सीमा पर तैनाती लगभग सितंबर अक्टूबर तक जारी रहने की उम्मीद है. जब तक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी शुरू नहीं हो जाती, तब तक यह हलचल जारी रहने की उम्मीद है.