भारतीय वायुसेना में हाल ही शामिल हुए लड़ाकू विमान राफेल से वायु सेना की शक्ति और भी बढ़ गई है। बता दें बीते 10 सितंबर को वायुसेना के द्वारा ‘गोल्डन ऐरो’ स्क्वाड्रन का गठन किया गया था। जिसमें एक महिला पायलट को राफेल विमान उड़ाने के लिए चयनित किया गया।

इसे भी पढ़ें: Uttarakhand Corona Update: कोरोना के 878 नए मामले, 9 जिलों में 503 क्षेत्र सील

आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक चयनित महिला अभी इसे उड़ाने का प्रशिक्षण ले रही है। वह इससे पहले मिग-21 विमान भी उड़ा चुकी है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें भारतीय वायुसेना में वर्तमान समय में 10 महिला पायलट हैं जो लड़ाकू विमान उड़ाने में माहिर हैं। सूत्रों के मुताबिक वायुसेना में कुल 1875 महिला पायलट हैं।

कुछ दिनों पहले ही भारतीय वायुसेना में यह लड़ाकू विमान शामिल किया गया था। जिससे सेना की ताकत में इजाफा हुआ है।