मिलिए पौड़ी गढ़वाल के दीपक से, जिन्होंने 150 जरूरत मंदो को खिलाया खाना

हिंदू लाइव डेस्क, पौड़ी गढ़वाल:- लॉक डाउन की वजह से बहुत सारे लोग फंसे हुए हैं जिसकी वजह से उनके आर्थिक स्थिति खराब हो रही है। बहुत सारे लोग सोशल मीडिया मेंं अपने मदद की गुहार लगा रहे हैं, हालांकि बहुत सारी संस्थाएं लोगों को जरूरी सामान की व्यवस्था करा रहेे हैं और कई संस्था खाने पीने की व्यवस्था की जा रही हैं

उत्तराखंड का एक युवा जो बिना किसी स्वार्थ के बिना किसी राजकीय मदद से लोगों की सहायता कर रहा है। युवक का नाम दीपक कंडवाल है। दीपक से बात करने पर उन्होंने बताया कि वह और उनसे जुड़े हुए सोशल मीडिया पर उनके मित्र जरूरतमंदों को खाना पहुंचाते है। अभी हाल में ही उन्होंने ऋषिकेश में 150 लोगों को प्रतिदिन खाना खिलाने की व्यवस्था की है। वहीं उन्होंने अपनेे जिले 50 परिवार को सुखा राशन उपलब्ध करवाया है। दीपक कंडवाल और उनके दोस्तों ने मिलकर ग्रामीण क्षेत्रों में 650 मास्क वितरित किए

उत्तराखंड का वो गांव जहां संचार व्यवस्था का बना है मज़ाक

उत्तराखंड राज्य के बाहर ले रहने वाले लोगों को भी इन्होंने अपने दोस्तों की मदद से धनराशि उपलब्ध करवाई है जिससे कि उन्हें कोई समस्या ना आ सके। कल ही इन्होंने ग्राम सभा तिमल्याणी में 7 अति जरूरतमंद परिवारों को राशन उपलब्ध करवाई। इस मामले में उन्हें कोई भी राजकीय सहायता नहीं प्राप्त होती है वह और उनके मित्र सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों तक सहायता पहुंचाते हैं।

उत्तराखंड: पूरा परिवार जो पिछले 3 महीने से है गुमशुदा

जानिए दीपक के बारे में

दीपक कंडवाल उत्तराखंड के पौड़ी जिले के यम्केश्वर ब्लॉक से है। इनके पिता वन विभाग में कार्य करते हैं इनका पूरा परिवार गांव में ही रहता है, और यह तीन भाई बहन है

दीपक ने दसवीं कक्षा तक गांव के विद्यालय से पास की उसके बाद ग्यारवी तथा 12वीं पिताजी के साथ रह कर हरिद्वार के BHEL के इंटर कॉलेज से उत्तीर्ण किया और उसके बाद स्नातक ऋषिकेश से किया।
हाल में दीपक अभी ब्लॉगर है, व पोलिटिकल व्यंग्य करते है।

29 साल के इस युवा अवस्था में जहां दूसरे लोग टिकटोक और सोशल मीडिया पर अपना समय बर्बाद करने में लगाते हैं वही दीपक कंडवाल अपना सारा समय जरूरतमंंद की सेवा करने में लगाते हैं। जहां एक तरफ प्रतिदिन अखबारों में मदद करते हुए नेताओं की तस्वीर आती है वहीं एक सामान्य नागरिक निस्वार्थ भाव से सेवा करते हुए इन सब से दूर है और इनके इस कदम से इनकी सराहना होती है।

अब इस नेक कार्य के लिए दीपक कंडवाल के साथ अन्य लोग भी मदद के लिए आगे आए हैं। लोगों ने मदद के लिए दीपक को धनराशि दान की है।