साहब मेरी बीबी से बचा लो, बेरहमी से पीटती है मुझे- थाना पहुंचकर गिड़गिड़ाया पति
प्रतीकात्मक चित्र

चाहे पति अपनी पत्नी के साथ मारपीट करे या पत्नी अपने पति के साथ, दोनों ही मामले में यह अपराध है लेकिन जिस तरह पत्नियों के पास घरेलू हिंसा कानून है, वैसा कानून पतियों के पास नहीं है। इसी कानून को ढाल बनाकर कुछ महिलाएं इसका फायदा भी उठाती है। ऐसा ही मामला हल्द्वानी से सामने आया है जहां एक व्यक्ति मुखानी थाने पहुंचा और (साहब मेरी बीबी से बचा लो, बेरहमी से पीटती है मुझे) गिड़गिड़ाते हुए अपनी दास्तान सुनाई। बरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें- दिल्ली में उत्तराखंड की 200 बसों को नहीं मिलेगी इंट्री, पढ़ें पूरी खबर 

जानकारी के अनुसार ग्राम घूनी कठघरिया निवासी नवीन सनवाल ने मुखानी थाने में तहरीर देते हुए हुए पत्नी पर प्रताड़ना करने और उसका मकान कब्जाने का आरोप लगाते हुए पत्नी के खिलाफ पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया है। व्यक्ति ने रोते हुए कहा कि साहब मेरी बीबी से बचा लो, बेरहमी से पीटती है मुझे और मेरी प्रापर्टी पर कब्जा करना चाहती है। तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पीड़ित पति के अनुसार उसकी दो बेटियां हैं और पत्नी 6 साल से कहां रहती है उसे पता नहीं है। ‌ लेकिन जब कभी वह घर आती है तो बेटियों तथा उसके साथ मारपीट करना शुरू कर देती है। घर की सारी प्रापर्टी पत्नी अपने नाम करवाना चाहती है। ऐसा नहीं करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी जाती है।

पत्नी का खौफ इतना छाया है कि जब भी वह घर आती है तो उसे अन्य जगह शरण लेनी पड़ती है। मुखानी थाना प्रभारी रमेश बोहरा ने बताया की महिला के खिलाफ मारपीट, गालीगलौज सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है पूरे मामले की जांच शुरू की गई है। पति- पत्नी के बीच विवाद का यह मामला शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है।