दिल्ली- भारत और चीन के बीच जारी तनाव के बीच भारत सरकार ने तीसरी बार डिजिटल स्ट्राइक की है। भारत सरकार ने पब्जी समेत 118 मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगाया है।

यह भी देखें- श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय ने जारी किया परीक्षा कार्यक्रम, देखें कब से शुरू होंगे परीक्षाएं

आपको बता दें कि 29 जून को भारत सरकार ने टिकटोक समेत 59 चाइनीस एप्स पर बैन लगाया था। जुलाई में भारत सरकार ने 47 चाइनीस एप्स पर प्रतिबंध लगाया था, तब से लगातार पब्जी पर प्रतिबंध लगाने को लेकर संशय बना हुआ था।

पब्जी समेत 118 मोबाइल एप्स किए प्रतिबंध

पब्जी के अलावा लिविक, वीचैट वर्क और वीचैट रीडिंग, एप लॉक, कैरम फ्रेंड्स जैसे 118 मोबाइल एप्स को प्रतिबंधित किया गया है।

भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए पब्जी समेत 118 चाइनीज मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है। मंत्रालय ने बयान में कहा कि इन एप्स के बारे में डाटा चोरी की शिकायतें मिली है। और डाटा चोरी कर लगातार देर से बारिश किताब अपने सर्वर तक अवैध रूप से पहुंचा रही हैं।

यह भी देखें- अनलाॅक 4: देश के इन 33 शहरों से उत्तराखंड आने वालों को 7 दिन क्वारंटाइन होना अनिवार्य

पब्जी गेम पर लगातार प्रतिबंध लगाने की मांग उठ रही थी। आपको बता दें कि अभी तक 12 सरकार ने चीन के 224 मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है। जून महीने में 59 मोबाइल एप्स तथा जुलाई के महीने में 47 चीनी मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगाने के बाद आज पब्जी समेत 118 मोबाइल एप्स पर प्रतिबंध लगा दिया है