Uksssc paper

Uksssc Case: उत्तराखंड में चयन आयोग में प्रश्न पत्र लीक और धांधली के बाद प्रदेश सरकार ने सभी आगामी परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय लिया था। लेकिन अब स्थगित हुई सभी परीक्षाओं को संपन्न कराने की जिम्मेदारी राज्य लोक सेवा आयोग को सौंपी गई है।  

उत्तराखंड सरकार यूकेएसएससी (Uksssc) की प्रस्तावित छ: परीक्षाएं को जल्द से जल्द पूरी करने की तैयारियों के साथ ही भविष्य में होने वाली परीक्षाओं को केंद्रीय एजेंसियों के सहयोग से आयोजित कराने पर विचार कर रही है। चयन आयोग पेपर (Uksssc) लीक प्रकरण में अभी भी जांच जारी है, बता दें इस मामले में अबतक 32 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। गिरफ्तार हुए लोगों में आयोग के कर्मचारियों की संख्या सबसे ज्यादा इसके बाद दूसरी परीक्षाएं भी जांच के दायरे में आ गई थी। 

 

प्रदेश सरकार ने जिन रिक्त पदों के लिए आवेदन मांगे थे उन सभी पदों पर जल्दी ही भर्ती प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। जिसके लिए  शासन स्तर से आयोग को पत्र भेजा जा रहा है। इन छः परीक्षाओं में फोरैस्ट गार्ड, उत्तराखंड पुलिस भर्ती समेत सालों से अधर में लटकी भर्तियां शामिल हैं। 

धांधली की जांच में जुटी है एसटीएफ

सबसे पहले यूकेएसएससी वीडियो परीक्षा में धांधली का मामला प्रकाश में आया था जिसके बाद जांच के की रिपोर्ट एसटीएफ को सौंपी गई। वीडियो भर्ती के बाद 2015 की पुलिस की दरोग़ा भर्ती में गड़बड़ी पाई गई थी। हालांकि प्रदेश भर में भर्ती घोटाले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग की जा रही है।