उत्तराखंड का इतिहास के बारे में जानने को इच्छुक हो तो यह जरूर पढ़ें

उत्तराखंड का इतिहास

हिन्दू लाइव डेस्क – आज उत्तराखंड के नेताओं द्वारा सोशल मीडिया पर उत्तराखंड की लक्ष्मीबाई तीलू रौतेली की शुभकामनाएं दी जा रही है. यह देख कर मन को काफी अच्छा लगा. उत्तराखंड के कुछ युवाओं को इस बारेे में काफी जानकारियां है, परंतु सोशल मीडिया पर जब हमने कमेंट पढ़े तो अधिकतर युवाओं को इसके बारे में जानकारी ही नहीं है. आज उत्तराखंंड का इतिहास एकमात्र पहेली बनकर रह गया है.

उत्तराखंड का इतिहास के बारे में जानकारी क्यों नहीं

यह भी पढ़े- उत्तरकाशी: मुस्टिकसौड मोबाइल कनैक्टिविटी, तिलोथ माण्डों पंपिंग योजना सहित कई अन्य मुद्दों पर डीएम से चर्चा

उत्तराखंड के इतिहास के बारे में अधिकतर युवाओं को इसलिए भी कम जानकारी है क्योंकि राज्य के इतिहास के बारे में स्कूल पाठ्यक्रम में बहुत कम ही मिलता है. और जो इतिहास पाठ्यक्रम में मिलता भी है, वह काफी कम मात्रा में होता है. जिसकी वजह से उत्तराखंड इतिहास और विभूतियों के बारे में युवाओं को ज्यादा जानकारी नहीं है.

उत्तराखंड के कुछ युवाओं से बात करने पर उन्होंने बताया कि की क्षेत्र का इतिहास और यहां की भी विभूतियों के बारे में कभी पढ़ाया ही नहीं गया. हमें पहले से ही राष्ट्रीय एकता के नाम पर पूर्व देश और देश के इतिहास के बारे में ही पढ़ाया गया.

हालांकि उत्तराखंड के बुजुर्गों को उत्तराखंड के बारे में काफी जानकारियां थी, जो उन्होंने अपनी अगली पीढ़ी को बताया. परंतु पाठ्यक्रम में ना होने पर उन्हें राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय बातें आगे बढ़ाएं जिस वजह से अब की पीढ़ी को राज्य के इतिहास के बारे में ज्यादा जानकारी ना रही है

यह भी पढ़े उत्तराखंड में धूमधाम से मनाया गया हरेला पर्व, पर्यावरण को लेकर मिला एक संदेश

उत्तराखंड इतिहास के बारे में जानकारी देता यूट्यूब अकाउंट

यदि आप उत्तराखंड के बारे में जानने की रुचि रखते हो इस कार्य में आपकी मदद हिंदू लाइव टीम करेगी. उत्तराखंड के लेखक श्री धर्मेंद्र पंत, का यूट्यूब अकाउंट घसेरी है जहां पर आप उत्तराखंड के इतिहास केेेे बारे में काफी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.