अल्मोड़ा जिला अस्पताल में भर्ती महिला की मौत के बाद काफी हंगामा हुआ। मृतक मरीज के परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही तथा चिकित्सको ने मरीज के परिजनों पर मारपीट और गाली-गलौज का आरोप लगाया। इस मामले में दोनों पक्षों की ओर से कोतवाली में शिकायत दी गई।

यह भी पढ़ें- ग्राम प्रधानों पर मेहरबान हुई धामी सरकार, दोगुना किया मानदेय

मिली जानकारी के अनुसार जसियाटाना बजवाड़ निवासी हेमा देवी पत्नी कृष्ण कुमार की 29 अगस्त को तबीयत खराब होने पर अस्पताल में भर्ती किया गया। चिकित्सकों के अनुसार महिला को सेप्टीसीमिया की बीमारी थी। गत रात्रि को अस्पताल में भर्ती महिला की मौत हो गई। ड्यूटी पर तैनात चिकित्सकों ने आरोप लगाया कि महिला की मृत्यु के बाद उनके पति कृष्ण कुमार, काजोल, हल्का का प्रधान समेत कई लोगों ने अस्पताल परिसर पहुंचकर मारपीट और गाली गलौज की।

वरिष्ठ फिजिशियन पीएस टाकुली ने कोतवाली में तहरीर दी, जिसके अनुसार मृतक महिला की पुत्री काजोल ने उन पर तेज नुकीले धारदार हथियार से हमला किया, और जिंदा जलाने की धमकी भी दी। चिकित्सकों ने परिजनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

वहीं दूसरी ओर मृतक महिला कै परिजनों की ओर से भी कोतवाली में तहरीर दी गई, जिसके अनुसार मृतक महिला को पेट दर्द और पेशाब संबंधित बीमारी थी। अस्पताल में भर्ती करने के बाद वरिष्ठ फिजिशियन पीएस टाकुली ने उनके सभी टेस्ट बाहर से करवाए और रिपोर्ट भी नहीं दी, जबकि वह गरीब बीपीएल परिवार है आते हैं। मृतक के पुत्र ने डां टाकुली पर धनराशि मांगने का आरोप लगाया और कहा कि धनराशि उपलब्ध नहीं करा पाने की वजह से चिकित्सकों ने लापरवाही बरती जिससे महिला की मौत हो गई। उन्होंने संबंधित चिकित्सक और एक नर्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

Leave a comment

Your email address will not be published.