उत्तराखंड: 13 वर्षीय बच्ची पर तेंदुए ने किया हमला

उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों में जंगली जानवरों का आंतक बढ़ते जा रहा है। जंगली जानवरों का आतंक इतना बढ़ गया है कि वे घरों के भीतर से बच्चों और मवेशियों को उठा लेते हैं। ताजा मामला सीमांत जनपद पिथौरागढ़ का है जहां घात लगाए तेंदुए ने परिजनों के साथ छत पर सो रही 13 वर्षीय बच्ची पर हमला कर दिया, जिससे किशोरी गंभीर रुप से घायल हो गई। इस खौफनाक हादसे से पीड़ित के परिवार तथा पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है। क्षेत्रवासियों ने वन विभाग से आदमखोर तेंदुए को पकड़ने की मांग की है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: जंगली जानवर का शिकार बनी एक और महिला, क्या अब नापेंगे वन विभाग के डीएफओ.

जानकारी के अनुसार पिथौरागढ़ जिले के ग्राम पंचायत बसोड़ के बोरागांव निवासी प्रिया भंडारी (13) पुत्री सुरेश भंडारी गर्मी से बचने के लिए रोज की तरह परिजनों के साथ छत पर सो रही थी। छत पर उनके साथ कुत्ता भी मौजूद था। बताया जा रहा है कि इसी दौरान एक तेंदुए ने कुत्ते पर एकाएक हमला कर दिया। कुत्ते के भागने पर तेंदुए ने बच्ची पर हमला कर दिया। जिससे उसकी नाक पर चोट लग गई। प्रिया की चीख सुनकर जाकर परिजनों के शोरगुल से तेंदुआ भाग गया। कांग्रेस विधायक मयूख ने वन विभाग से बच्ची के परिजनों को मुआवजा देकर आबादी और जंगल के किनारे गश्त कराने के लिए कहा है।