उत्तराखंड: चंपावत सीट से सीएम पुष्कर धामी ने भरा नामांकन पत्र

उत्तराखंड की पांचवीं विधानसभा चुनाव में खटीमा सीट से हारने के बावजूद भाजपा केन्द्रीय नेतृत्व ने उन्हें दुबारा उत्तराखंड की कमान सौंपी है। मुख्यमंत्री पद पर बने रहने के लिए सीएम धामी को 6 माह से पहले विधान सभा चुनाव जीतना जरुरी है। सोमवार को सीएम धामी ने चंपावत विधानसभा सीट से नामांकन भरा। इस सीट पर 31 मई को मतदान होगा और 4 जून को नतीजे आएंगे।

यह भी पढ़ें- चंपावत विधानसभा सीट के उपचुनाव में सीएम धामी और निर्मला गहतोड़ी आमने सामने, कांग्रेस ने महिला नेत्री पर खेला दांव

बता दें की चंपावत सीट से विधायक कैलाश गहतोड़ी ने सीएम पुष्कर धामी के सीट छोड़ने की पेशकश की थी और 21 अप्रैल को उन्होंने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। आज सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उपचुनाव के लिए नामांकन करा दिया है। आरओ और टनकपुर एसडीएम हिमांशु कफल्टिया ने सीएम के नामांकन की प्रक्रिया पूरी की। यहां उनके साथ पूर्व मुख्यमंत्रियों समेत केंद्रीय मंत्री और कैबिनेट मंत्री के अलावा विभिन्न विधानसभाओं के विधायक मौजूद रहे। नामांकन के बाद सीएम ने गोलज्यू के दरबार में पूजा अर्चना की।

चंपावत विधानसभा सीट पर उपचुनाव के प्रत्याशी को लेकर लंबे मंथन के बाद कांग्रेस ने निर्मला गहतोड़ी को प्रत्याशी बनाया है। वह इससे पूर्व कांग्रेस की जिला अध्यक्ष भी रह चुकी है। वहीं आम आदमी पार्टी ने आम आदमी पार्टी (आप) भी प्रत्याशी उतारने पर विचार कर रही है, हालांकि किसको प्रत्याशी बनाया जाएगा, इस पर अभी तक स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है। चंपावत उपचुनाव के लिए 31 मई को मतदान और 4 जून को मतगणना होगी।