अल्मोडा़- पिता समेत तीन बच्चों ने पिया जहर, हालत गंभीर, हिन्दू लाइव

कोरोना काल के कारण कई लोग मानसिक तनाव और अवसाद के शिकार हो रहे हैं। देश में हुये लॉकडाउन से बहुत लोगों की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है। जिसके चलते बहुत लोगों ने आत्महत्या की है। ऐसे ही एक बुरी खबर अल्मोड़ा जिले की है, जहां बेरोजगारी के चलते पिता समेत तीन बच्चों ने जहर पिया। जो इस समय गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं।

यह भी पढ़े- बाबा का ढाबा: सोशल मीडिया के माध्यम से बूढ़े दंपत्ति के चेहरे पर खिली मुस्कान

पिता समेत तीन बच्चों ने पिया जहर

मिली जानकारी के अनुसार लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हुए अल्मोडा़ जनपद के स्यालजा में पिता समेत तीन बच्चों ने जहर पी लिया। परिजनों ने गंभीर हालत में देखते हुए इन्हें रामनगर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से इन हल्द्वानी रेफर किया गया। जहां 3 बच्चों की हालत में सुधार बताया जा रहा है वही पिता की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है।

बताया जा रहा है कि महिपाल इससे पहले दिल्ली में नौकरी करता था। लॉकडाउन में घर वापस आने के बाद से ही वह घर में ही था, परंतु उनकी पत्नी वापस दिल्ली चली गई थी। गांव में काम ना मिलने से महिपाल लगातार परेशान रह रहा था। रोजगार के साथ-साथ बच्चों की देखरेख की समस्याएं भी उत्पन्न हो रही थी जिसको लेकर महिपाल ने जहर खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने की सोची।

यह भी देखें- उत्तराखंड: शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया जल्द होगी पूरी, नैनीताल हाईकोर्ट ने दिया निर्देश

इतने रात महिपाल ने अपने बेटे हर्षपाल, यसपाल और बेटी हिमांशी के साथ अपने दो बैलों को भी जहर दिया है, जिससे दोनों बैलों की मौत हो गई। परिजनों को पता चलते ही इन्हें रामनगर अस्पताल में शिफ्ट किया गया जहां से हल्द्वानी बेस अस्पताल में रेफर किया गया। फिलहाल हल्द्वानी बेस अस्पताल में चारों का इलाज चल रहा है।