अल्मोड़ा के राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित महामृत्युंजयमंदिर के अंतर्गत भैरव मंदिर से बुधवार को अराजक तत्वों ने शिवलिंग उखाड़ कर ले गए, जिसके बाद से ही स्थानीय लोगों में आक्रोश छाया हुआ था। अल्मोड़ा पुलिस ने भैरव मंदिर से शिवलिंग चोरी की घटना का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार किया।

आपको बता दें कि यह मंदिर पुरातत्व विभाग के सरंक्षण में है, और इसकी देखरेख के लिए कर्मचारी भी नियुक्त किए रहते हैं। इस मंदिर में लोगों की अगाध श्रद्धा है, और भक्त लोग यहां पूजा अर्चना करने के लिए आते रहते हैं। बुधवार को जब पूजा अर्चना के लिए आए लोगों को भैरव मंदिर में शिवलिंग नहीं मिला जिससे वहां हड़कंप मच गया।

भैरव मंदिर से शिवलिंग चोरी

महामृत्युंजय मंदिर में लोगों की अगाध श्रद्धा है। यहां लोग अक्सर पूजा अर्चना के लिए आते हैं। बुधवार दोपहर जब कुछ लोग वहां पूजा अर्चना के लिए गए तो भैरव मंदिर से शिवलिंग गायब मिला। इससे वहां हड़कंप मच गया। पुरातत्व विभाग के कर्मचारियों को सूचना दी गई। तत्काल पुलिस में मामले की प्राथमिकी दर्ज करा दी गई। सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाली गई। मंदिर में पहली बार इस तरह की घटना से लोगों की आस्था पर गहरा आघात लगा है।

कोटद्वार: जंगलों की आग बुझाने के दौरान चट्टान से गिरने से दो वनकर्मियों की मौत

यह मंदिर पुरातत्व विभाग के संरक्षण में है। इसकी देखरेख के लिए यहां कर्मचारी भी नियुक्त किए गए हैं। इस घटना के बाद नीरू लोहनी पत्नी दिनेश चन्द्र लोहनी निवासी- एम.टी.एस. बद्रीनाथ मन्दिर, समूह द्वाराहाट अल्मोड़ा द्वारा अज्ञात के विरूद्व महामृत्युन्जय मन्दिर में स्थापित भैरव मन्दिर के शिवलिंग को क्षति पहॅुचाकर चोरी कर ले जाने के सम्बन्ध में थाना द्वाराहाट में मुकदमा पंजीकृत कराया गया।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने दिए तत्काल गिरफ्तारी के निर्देश

मामले की गम्भीरता को देखते हुए तत्काल वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा पंकज भट्ट द्वारा तत्काल मौके का जायजा लिया गया, और जनपद की पुलिस टीम को चप्पे चप्पे पर चैकिंग करवाने के साथ ही एसओजी की टीम को सतर्क करते हुए कैम्प किये जाने एवं आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी हेतु सख्त निर्देश दिये गये।

मामले को लेकर द्वाराहाट क्षेत्र मे लगे कैमरों के वीडियो को चैक किए गए, तथा समस्त मंदिरों के आस-पास के रास्तों को चैक व पूछताछ करते हुए पुरातत्व अधिकारियों/संरक्षक से पूछताछ करने के उपरान्त सभी कड़ियों को जोड़ने के बाद संदिग्ध की बाजार में दौड़ते हुई गतिविधियों को देखा गया था।

पुलिस टीम द्वारा अथक प्रयास के साथ एवं स्थानीयों से पूछताछ कर तथा द्वाराहाट पुलिस एवं एसओजी की संयुक्त टीम द्वारा मिलकर चप्पे-चप्पे पर पुलिस द्वारा चैकिंग/पूछताछ एवं कैम्प के फलस्वरूप आरोपी अपने गाॅव में अपने ही घर पर मिल गया।

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर की पहचान

सीसीटीवी फुटेज में दिखे कपड़े, जूते, बैग को वीडियो के आधार पर मैच किये जाने पर लड़के की पहचान तारा सिंह के रुप में हुई। पुलिस द्वारा पूछताछ करने पर ताला सिंह ने अपना अपराध स्वीकार किया।

पूछताछ पर तारा सिंह ने बताया कि वह मंगलवार को अपने गाॅव से 02 किलोमीटर आगे शिवालय मन्दिर से भैरव बाबा की मूर्ति एवं 03 चिमटे चोरी करने के बाद मूर्ति लेकर गाॅव के एक स्कूल के पास पुल के नीचे छुपा कर अपने घर आ गया था।

अगले दिन बुधवार को प्रातः घर से बाल कटाने के बहाने से द्वाराहाट बाजार आया, तथा मन्दिर में दर्शन कर माथा टेकने के उपरान्त भैरव मन्दिर में शिवलिंग के ऊपरी भाग को जोर लगाकर तोड़ दिया और बैग में रखकर गांव के स्कूल के पास छुपा कर अपने घर चला गया। घर से दौड़ने के बहाने से थैला लेकर मूर्ति/शिवलिंग का ऊपरी भाग एवं 03 चिमटे लेकर मेन रोड से चौखुटिया क्षेत्र में बाखली गाॅव के पुराने स्कूल के लैट्रिंग के पिट के अन्दर टैंक में डाल दिया जिसकी निशानदेही पर आज यह सारे बरामद हो गए।

प्राचीन महामृत्युंजय मन्दिर के भैरव मंदिर से शिवलिंग चोरी की घटना का खुलासा

भैरव मंदिर से शिवलिंग चोरी करने का कारण

आरोपी तारा सिंह राणा निवासी ग्राम चितैलीगाड़, पो0 चित्रेश्वर, द्वाराहाट ने बताया कि बीमार रहने की वजह से मान्यताओं के अनुसार लगातार भैरव मंदिर में पूजा पाठ किया करता था उसके उपरांत कुछ फायदा न होने से उसके मन में रोष उत्पन्न हुआ और भैरव मंदिर के मूर्ति को फेंक देने का मन बनाया। जिस वजह से भैरव मन्दिर की मूर्ति, चिमटे चोरी तथा दूसरे मन्दिर से शिवलिंग का ऊपरी भाग तोडकर लैट्रिन के पिट में डाल दिया, और भैरव बाबा की मूर्ति, शिवलिंग का ऊपरी भाग एवं 03 चिमटे बरामद किए गए। बताया जा रहा है कि तारा सिंह की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।

गिरफ्तारी टीम को नगद पुरस्कार की घोषणा

अल्मोड़ा पुलिस द्वारा संवेदनशील मामले पर त्वरित सफलता को लेकर पुलिस महानिरीक्षक कुमाॅयू परिक्षेत्र नैनीताल द्वारा गिरफ्तारी टीम को उत्साहवर्धन हेतु 5000 का रूपये का नगद पुरूस्कार देने की घोषणा की है, इसके साथ ही द्वाराहाट विधायक महेश नेगी और भाजपा जिलाध्यक्ष रवि रौतेला ने 2500-2500 रुपए नगद पुरस्कार दिए।