उत्तराखंड: आने वाले पर्यटकों को मिली बड़ी राहत, सरकार ने जारी की गाइडलाइन

उत्तराखंड सरकार ने जारी की गई गाइड लाइन में संशोधित करके आने वाले पर्यटकों को बड़ी राहत प्रदान की है। आने वाले पर्यटकों की न्यूनतम 2 दिन की बाध्यता समाप्त कर दी है वहीं अब कोविड-19 टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट भी नहीं दिखानी होगी।

यह भी देखें- महिला की मदद के लिए आगे आए सोनू सूद, महिला के पेट के ट्यूमर का हुआ सफल ऑपरेशन

राज्य में 19 सितंबर को जारी किए गए दिशा निर्देश के अनुसार उत्तराखंड घूमने आने वाले पर्यटकों को अपने कोविड-19 टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी, साथ ही उन्हें राज्य में 2 दिन रहना जरूरी होगा। कोविड-19 रिपोर्ट ना होने पर राज्य सरकार द्वारा चिन्हित लैब में स्वयं के खर्चे पर कोरोना टेस्ट कराना होगा। साथ ही रिपोर्ट आने तक पर्यटकों को होटल में ही रुकने की बाध्यता थी।

पर्यटकों के लिए बड़ी राहत सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

उत्तराखंड के मुख्य सचिव ओमप्रकाश द्वारा जारी आदेश में स्पष्ट किया गया है कि प्रदेश में आने वाले सभी पर्यटकों को देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।

संशोधित गाइडलाइन में अब पर्यटकों को उत्तराखंड में 2 दिन रुकने की बाध्यता नहीं होगी। होटल प्रबंध द्वारा आने वाले पर्यटकों की सैनिटाइजेशन और शारीरिक दूरी के मानकों का अनुपालन तथा थर्मल स्क्रीनिंग कराएगा। पर्यटकों के कोरोना संक्रमित लक्षण होने पर या कोरोना संक्रमित पाए जाने की स्थिति में जिला प्रशासन को सूचित करना अनिवार्य है, साथ ही होटल प्रबंध को केंद्र सरकार और राज्य सरकार द्वारा जारी नियमों का अनुपालन कराना होगा।

वही अब सीमित अवधि के लिए आने वाले पर्यटकों को कोविड-19 नेगेटिव रिपोर्ट भी नहीं दिखानी होगी, परंतु देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है।

यह भी पढ़े- कोरोना को लेकर उत्तराखंड में राहत, रिकवरी मामलों में तेजी से हो रही बढ़ोतरी

उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों को बड़ी राहत मिली है पिछले कुछ दिनों से उत्तराखंड में रिकवरी मामलों की संख्या मे इजाफा हो रहा है।