राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रों की मुहिम, लाॅकडाउन में जूनियर छात्रों की पढ़ाई में कर रहे मदद

न्यूज डेस्क चमोली- देश में चल रही महामारी के बीच उत्तराखंड का चमोली जिला एक के बाद एक मिसाल पेश कर रहा है. चमोली जिले केे राजकीय इंटर कालेज उडामाण्डा के राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रों ने एक अनूठी मिसाल पेश की हैै।

यह भी देखें- सेल्यूट: 4 किमी• पैदल चलकर बच्चों को पढ़ाने घर पर जाते हैं ये दो शिक्षक

चमोली जिले के पोखरी विकासखण्ड के अंतर्गत राजकीय इंटर कालेज उडामाण्डा, जो जिले में पाठ्य एवम पाठ्येत्तर गति विधियों में हमेशा अव्वल रहता है. देश में चल रही महामारी के कारण आजकल सभी विद्यालय बंद है जिससे कि विद्यार्थियों के पठन-पाठन में काफी समस्याएं उत्पन्न हो रही है.

राजकीय इंटर कालेज उडामाण्डा के राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्र

आपको बता दें कि ऐसे समय में विद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना प्रभारी हिंदी प्रवक्ता श्री ब्रह्मानन्द किमोठी के मार्गदर्शन में मिशन कोशिश अभियान चलाया गया.

इस मिशन कोशिश के अंतर्गत सभी सीनियर छात्र अपने आसपास के क्षेत्रों में अपने जूनियर छात्रों की पढ़ाई में मदद और कक्षा 8 तक के बच्चों को पढ़ाने का निर्णय लिया गया.

आपको बता दें कि कांडई खोला में 12, उडामाण्डा में 10 और सिनाउँ में 8 बच्चों को 8 स्वयं सेवियों द्वारा पढ़ाया जा रहा है.

गर तूने ठान ली मन मे आसमाँ छूने की
तो ये ऊंचे ऊंचे पर्वत शिखर तुझे सहारा देंगे”

N.S.S के स्वयंसेवकों और स्वयं सेवियों द्वारा किया गया कार्य एक समाज को अच्छा संदेश देता है, जिससे इनके लिए यह दो लाइन याद आती है. इसके साथ ही एनएसएस प्रभारी श्री ब्रह्मानन्द किमोठी की यह पहल भी काबिले तारीफ है.