उत्तराखंड: तेज़ी से फैल रहा नशे का कारोबार, 2 सालों में पकड़ी गई 30 कऱोड की ड्रग्स

उत्तराखंड में लगातार फैल रहा नशे का कारोबार
उत्तराखंड में तेजी से फैल रहा नशे का कारोबार (प्रतीकात्मक चित्र)

हिन्दू लाइव डेस्क: वैश्विक महामारी कोरोना (covid-19) के बीच ध्यान देने वाली बात यह भी है कि देशभर में ड्रग्स का कारोबार तेजी से फैलता जा रहा है। बात करें उत्तराखंड की तो राज्य में बीते दो वर्षों में इस कारोबार का बड़े पैमाने पर विस्तार हुआ है।

उत्तराखंड में इन दो वर्षों में लगभग 30 करोड़ की ड्रग्स पकड़ी गई है। चिंता का विषय यह है कि ड्रग्स स्मगलरों के निशाने पर स्कूल व कालेजों के बच्चों के साथ साथ कामकाजी युवा भी है।

जानिए क्या कहते हैं पुलिस के आंकड़े

उत्तराखंड पुलिस के मुताबिक ड्रग्स स्मेगलिग के मामले हर साल बढ़ते जा रहे हैं। दो सालों अफ़ीम, गांजा, स्मैक, भांग व हिरोइन के अलावा नशीले इंजेक्शन, गोलियां, कैप्सूल आदि सबसे ज्यादा पकड़े गए हैं।

वर्ष 2018-19 में ड्रग्स स्मगलिंग के 2459 मामले

प्रदेश पुलिस के अनुसार वर्ष 2018 में ड्रग्स स्मगलिंग के 1063 मामले दर्ज हुए हैं। वहीं पुलिस ने इन मामलों में लिप्त 1133 लोगों को गिरफ्तार किया था। साल 2019 में 1396 मामले सामने आए थे जिनमें से 1158 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

उत्तराखंड में तेजी से फैल रहा नशे का कारोबार (प्रतीकात्मक चित्र)
उत्तराखंड में तेजी से फैल रहा नशे का कारोबार (प्रतीकात्मक चित्र)

वर्ष 2020 में मई तक 682 मामले सामने आए जो कि बीते दो वर्षों के मुकाबले ज्यादा चौंकाने वाले हैं। उत्तराखंड पुलिस इसे रोकने के लिए तरह तरह के अभियान चलाती आ रही हैं।

भारत में कोरोनावायरस महामारी के फैलाव पर नज़र रखें, और hindulive.com पर पाएं देशभर से COVID-19 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें.