ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने किया ध्वजारोहण

ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने किया ध्वजारोहण

गैरसैंण. देशभर में आज स्वतंत्रता दिवस (independent day) की 74वीं वर्षगांठ मनाई गई. हालांकि इस बार कोरोना महामारी के चलते सभी स्कूल कालेज आदि बंद हैं लेकिन राज्य में सरकारी दफ्तरों, बस व रेलवे स्टेशनों पर झंडा फहराया गया.

उत्तराखंड में बनी नई ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने ध्वजारोहण किया. वर्तमान मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने ट्वीट कर कहा कि जनभावनाओं का सम्मान करते हुए हमने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब प्रदेश की राजधानी के अनुरूप ही गैरसैंण के विकास के लिए कार्य किया जा रहा है. इसके साथ ही राजधानी के विकास के लिए नई घोषणाएं भी की है.

बता दें बीजेपी ने अपने चुनाव संकल्प पत्र में यह घोषणा की थी कि उनकी सरकार आने पर गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया जाएगा. उत्तराखंड में बीजेपी की सरकार बनने के बाद उत्तराखंड वासी इसी मुद्दे का इंतजार कर रहे थे.