रविवार को चमोली जनपद के तपोवन क्षेत्र में आई भीषण आपदा में बचाव एवं राहत कार्य तेजी से चल रहा है। रविवार को मुख्यमंत्री ने घटनास्थल का दौरा कर वापस देहरादून लौट गए थे। मुख्यमंत्री ने जानकारी देते हुए कहा कि आज वह पुनः आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करेंगे और वहीं रात्रि प्रवास करेंगे।

चमोली आपदा: लाश मिलने का सिलसिला जारी, 200 से अधिक लोग लापता

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर जानकारी दी कि कि मैं देहरादून से आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा करने जा रहा हूं, और रात वहीं पर प्रवास कर राहत और बचाव कार्य की निगरानी करेंगे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री आपदा प्रभावितों से मुलाकात करेंगे।

सीएम ने कहा कि सरकार राहत और बचाव कार्य में कोई कसर नहीं छोड़ रही है, और इस कार्य में केंद्र सरकार द्वारा पूरी मदद मिल रही है। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की कि इस हादसे को विकास के खिलाफ प्रोपेगेंडा ना बनाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बैठक में अधिकारियों के साथ बचाव कार्य आपदाओं की समीक्षा की, और गढ़वाल कमिश्नर एवं डीआइजी गढ़वाल को भी जोशीमठ भेजा गया है। सीएम ने कहा कि मैं भरोसा दिलाता हूं कि पीड़ितों की मदद के लिए हमारी सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी। बता दें कि उत्तराखंड सरकार ने मदद के लिए 20 करोड़ रुपए जारी किए हैं।

मुख्यमंत्री आज पुनः करेंगे आपदाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा,

राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र के अनुसार चमोली आपदा में सोमवार दोपहर 12:40 तक 18 शव बरामद किए गए थे। उत्तराखंड पुलिस ने 202 लोगों के लापता होने की लिस्ट जारी की है। डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि तपोवन के टनल में मलबा लगातार हटाया जा रहा है। और राहत कार्य के तहत जिन गांव का संपर्क टूट गए हैं वहां राहत सामग्री पहुंचाई जा रही है।