उत्तराखंड: हल्द्वानी में इमाम को क्वॉरेंटाइन पर हुआ बवाल, सड़कों पर उतरकर बोले ‘अल्लाह हु अकबर’

0

हिंदू लाइव डेस्क: उत्तराखंड– कोरोनावायरस से देश मेंं संक्रमित लोगों की संख्या बड़ी तेजी सेे बढ़ रही है। यह देख कर भारत सरकार ने पुनः पूरे देश में लॉक डाउन घोषित कर दिया। भारत के कई हिस्सों में डॉक्टरों और नर्सों के साथ इस विषय में सहयोग नहींं कर रहे हैं, वहीं कुछ जगह उन पर ठोका जा रहा और कहीं पत्थर फेंकेे जा रहे हैं।

उत्तराखंड में कोरोनावायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 35 है। अंतिम 4 दिनों से उत्तराखंड में कोई भी कोरोनावायरस मरीज होने की पुष्टि नहीं मिली है जो कि उत्तराखंड के लिए एक अच्छी खबर है परंतु कल बनभूलपुरा मे एक व्यक्ति के स्वास्थ्य परीक्षण के दौरान कुछ संदिग्ध लक्षण मिलने पर डॉक्टर टीम द्वारा उनको क़वारन्टीन करने को कहने पर क्षेत्रीय लोगो द्वारा भीड़ लगा हंगामा कर दिया। इसके बाद वहा अतरिक्त फ़ोर्स भेजनी पड़ी


इसके बाद कही जाकर मामला शांत हो पाया।
पुलिस की मौजूदगी में उक्त संदिग्ध को क़वारन्टीन करा गया है, स्वास्थ्य टीम द्वारा लगातार इन क्षेत्रों पर स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है वही आज की इस घटना ने फिर बता दिया कि कुछ लोगो को इलाज की नही दिमाग की ज़रूरत है।


जिस वजह से लोगों में काफी रोष है सोशल मीडिया पर लोग सरकार से यह सवाल पूछ रहे हैं कि आखिर इनके ऊपर क्या एक्शन लिया जाएगा। हाल में ही सोशल मीडिया पर अभी अवैध निर्माण को लेकर उत्तराखंड के लोगों ने आवाज उठाई थी जिसके फलस्वरूप उत्तराखंड पुलिस ने एक लड़के को थाने में बुलाकर उससे माफीनामा लिखवाया। हालांकि उत्तराखंड के ही एक वकील प्रभात बोरा इस मामले में निशुल्क कानूनी सहायता देने की बात कही है। उन्होंने कहा कि अवैध धर्म स्थलों को हटाने को कहने मैं धार्मिक सौहार्द कहां से आता है। तब थे सोशल मीडिया पर यह आवाज उठ रही है कि एक सामान्य पोस्ट में कानूनी कार्रवाई हो सकती है तो इन लोगों के पर क्या कार्रवाई होगी और कब तक होगी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.