उत्तराखंड में चोरों के मन में कानून का कितना खौफ है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता कि देहरादून में सबसे सुरक्षित माने जाने वाले सचिवालय में भरी दोपहरी में चोरों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया, और यह कोई समान्य चोरी नहीं बल्कि गृह अनुभाग से सूचना के अधिकार अधिनियम के तहत मिले आवेदन पत्र चोरी हो गए।

चमोली आपदा: अलग-अलग क्षेत्रों से 67 शव एवं 28 मानव अंग बरामद, राहत बचाव कार्य जारी

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक 8-10 आवेदन पत्र शिकायतकर्ता ने पुलिस में तहरीर दी कि शुक्रवार को खाने खाने के लिए वह दोपहर में घर गया था। इसी दौरान अज्ञात व्यक्ति ने सचिवालय में घुसकर आरटीआई का फोल्डर चोरी कर ले गया।

बताया जा रहा है कि उस फोल्डर में 8 से 10 आवेदन पत्र थे। सचिवालय में चोरी की घटना को लेकर अनुभाग अधिकारी पंकज जोशी ने पुलिस को इसकी तहरीर दी। गृह अनुभाग 3 में दस्तावेज चोरी की यह पहली घटना नहीं है।

बीते वर्ष सितंबर माह में सचिवालय से शांतिकुंज मामले से जुड़ी एक फाइल भी चोरी हो गई थी। सचिवालय में हो रही चोरी के बाद यह खबरें लगातार चर्चा में है, और हर कोई यह जानना चाहता है कि इतने सुरक्षित जगह पर कैसे चोरी हो सकती है।