भारत ने मानवता दिखाते हुए नेपाली महिला की फरियाद पर खोला अंतरराष्ट्रीय झूला पुल

3

उत्तराखंड- भारत और नेपाल के बीच पिछले कुछ समय से मानचित्र को लेकर विवाद जारी है। भारत पर नेपाल लगातार कई तरह के आरोप लगा रहा है। भारत नेे नेपाल के साथ रोटी बेटी के संबंध को कायम रखते हुए फिर मानवता का कार्य किया। भारत ने नेपाली महिला की फरियाद पर धारचूला का अंतरराष्ट्रीय झूला पुल खोल दिया।

यह भी पढ़े- उत्तराखंड: त्रिवेन्द्र रावत पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप, हाईकोर्ट ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

क्या था पूरा मामला

नेपाल की ब्यास गांव निवासी मैना ऐतवाल दिल्ली एम्स में इलाज के लिए आई हुई थी इसी दौरान उनके पति धर्म सिंह ऐतवाल का निधन हो गया। पति के अंतिम दर्शन के लिए मैना ऐतवाल मंगलवार को दिल्ली से धारचूला पहुंची। धारचूला का अंतरराष्ट्रीय झूला पुल बंद होने से महिला ने नेपाल सरकार से पुल खोलने के मामले में गुहार लगायी।

नेपाली महिला की फरियाद पर खोला धारचूला का अंतरराष्ट्रीय झूला पुल

नेपाल सरकार ने इस संबंध में भारत के प्रशासन से बात की। सीमांत के जिला प्रशासन ने नेपाली महिला की फरियाद पर संवेदना दिखाते हुए मंगलवार शाम को 15 मिनट के लिए धारचूला का झूला पुल का गेट खोल दिया। गेट खोले के दौरान महिला समेत 11 अन्य भारतीय नेपाल गए तथा नेपाल से 14 लोगों ने भारत प्रवेश किया।

यह भी देखें- बाबा का ढाबा के नाम पर लिए गए डोनेशन पर उठे सवाल, बाबा तक नहीं पहुंचा पैसा

धारचूला का झूला पुल को खोलते समय कोविड-19 दिशा निर्देश तथा गहन चेकिंग के साथ 15 मिनट के लिए दोनों देशों के बीच आवाजाही कराई गई। इस दौरान सबकी थर्मल स्क्रीनिंग की गई।