नैनीताल-बच्चे बोले थैंक्यू डीएम अंकल, अब स्कूली बच्चों को नहीं जाना पड़ेगा पैदल

ख़बर शेयर करें

नैनीताल-विगत 04 दिसम्बर को खलाड में आयोजित बहुउद्देशीय शिविर में जिलाधिकारी सविन बंसल को क्षेत्र के लोगो ने बताया कि खलाड एवं तडी की छात्राओं को पढाई करने के लिए सिमलखा इण्टर काॅलेज जाना पडता है। वाहन की सुविधा ना होने के कारण छात्राओं को मीलो पैदल रास्ता तय करना पड़ता है। अगर इण्टर काॅलेज जाने के लिए वाहन की व्यवस्था हो जाए तो इन दूर दराज की छात्राओं को सुविधा होगी। बच्चों की शिक्षा के प्रति संवेदनशील जिलाधिकारी बंसल ने खलाड एवं तडी की छात्राओं को सिमलखां इण्टर काॅलेज आने-जाने हेतु वाहन व्यवस्था के लिए धनराशि स्वीकृत कर दी है।

बहुउद्देशीय शिविर में प्राप्त इस गम्भीर एवं संवेदनशील समस्या का जिलाधिकारी द्वारा तत्परता से निराकरण कर दिया है।
बंसल ने मुख्य शिक्षा अधिकारी के.के. गुप्ता को निर्देशित किया है कि छात्राओं के लिए काॅलेज तक आने-जाने के लिए तत्काल वाहन की व्यवस्था सुनिश्चित करें तथा किराये के वाहन हेतु धनराशि खण्ड शिक्षा अधिकारी बेतालघाट को तत्काल उपलब्ध करा दें।

उन्होंने कहा कि कक्षा 10 की 06 छात्राओं को बोर्ड परीक्षा अवधि में भी वाहन सुविधा उपलब्ध कराई जायें। बंसल का मानना है कि शिक्षित बालिका दो परिवारों को रोशन करने का काम करती है। शिक्षित बेटी राष्ट्र एवं समाज का गौरव है।


ख़बर शेयर करें

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें