उत्तराखंड: कोरोना मुक्त राज्य की तरफ अग्रसर, शानदार रिकवरी औसत

5

सितंबर माह में उत्तराखंड में कोरोना वायरस को लेकर काफी भयवाह स्थिति हो गई थी, लगातार संक्रमित मामलों के रिकॉर्ड टूट रहे थे। अक्टूबर माह में कोरोना संक्रमण मामलों की रफ्तार धीरे-धीरे घटती तथा रिकवरी औसत तेजी से बढ़ रहा है। इसी प्रकार चलता रहा तो उत्तराखंड ज्यादा ही कोरोना मुक्त राज्य हो जाएगा।

यह भी पढ़े- दमयंती रावत को सचिव पद से हटाने पर हरक सिंह रावत ने बोर्ड अध्यक्ष पर लगाए आरोप

30 सितंबर को उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का रिकवरी औसत लगभग 79% था, जो अब बढ़कर 92% प्रतिशत के पास पहुंच गया है। जहां 30 सितंबर को सक्रिय केसों की संख्या 9000 से अधिक थी। वह अब 3500 के आसपास पहुंच गई है।

उत्तराखंड में कंटेंटमेंट जोन की संख्या में भी अब घटौती हो रही है। राज्य में केवल 40 कंटेनमेंट जोन ही बचे हैं। जिसमें से सर्वाधिक 13 जोन देहरादून में, हरिद्वार 5, चंपावत और पौड़ी में 1-1 जोन है।

राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या मे भी कमी दिखी है, जो उत्तराखंड सरकार और स्वास्थ्य विभाग के लिए एक राहत वाली खबर है। 29 अक्टूबर को राज्य में किसी भी कोरोना संक्रमित मरीज की मृत्यु नहीं हुई है, तथा 30 अक्टूबर को 2 मरीजों की मृत्यु हुई।

पिछले 24 घंटे में उत्तराखंड में कोरोना वायरस का आंकड़ा

उत्तराखंड में पिछले 24 घंटे में 349 नए मामले तथा 242 मामले रिकवर हुए हैं, वही जनपद में 2 मरीजों की मृत्यु हुई है। उत्तराखंड में कोरोना का आंकड़ा 61000 तथा 56000 से अधिक मामले रिकवर हो चुके हैं। उत्तराखंड में सक्रिय मामलों की संख्या 3624 तथा रिकवरी औषत 92% के पास है।

जिस तेजी से उत्तराखंड में कोरोना रिकवरी का औसत बढ़ रहा है, ऐसे में उत्तराखंड जल्द ही कोरोना मुक्त राज्य बन जाएगा, जोकि उत्तराखंड वासियों के लिए एक राहत भरी खबर होगी।