उत्तराखंड: 50% सीटों की बाध्यता खत्म, दूसरे राज्यों की बसों के संचालन को भी मंजूरी

देहरादून. उत्तराखंड के परिवहन व्यवसायियों के लिए अच्छी खबर है। राज्य सरकार ने आज बसों समेत सभी सार्वजनिक वाहनों से 50% सीटों की बाध्यता को हटा दिया है। बता दें कोरोनावायरस (कोविड-19) को ध्यान में रखते हुए बाहरी राज्यों से बसों के संचालन हेतु नई SOP जारी की गई है।

जानिए सफ़र करने से पहले किन बातों का ध्यान रखना होगा

सोमवार को मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने सार्वजनिक वाहनों के संचालन हेतु नई गाइडलाइन जारी की है। इसमें संचालन के संबंध में सभी नियमों को स्पष्ट किया गया है। बसों समेत सभी सार्वजनिक वाहनों टेक्सी, मेक्स, ई-रिक्शा आदि में 50% सवारियों की बाध्यता अब खत्म कर दी है। लेकिन बसों में सफ़र करने वाले प्रत्येक यात्री को रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा।

फाइल फोटो

यात्रियों को चढ़ाने से पहले तथा उसके बाद वाहनों को सेनिटाइज करना अनिवार्य होगा। बिना मास्क के कोई भी यात्री सफर नहीं कर सकते हैं। साथ ही थूकने या पान मसाला खाने पर जुर्माना लगाया जाएगा।

इसके साथ ही वाहनों में तय मानकों के अनुरूप ही किराया लिया जाएगा।

यह सुविधा मंगलवार से प्रत्येक जिले में सुचारू कर दी जाएगी