उपनल में सबके लिए खुले रोजगार के द्वार, त्रिवेंद्र सरकार ने किया उपनल नियमावली में संशोधन

देहरादून- उपनल जहां पहले भूतपूर्व सैनिकों व उनके आश्रितों के लिए आरक्षित था। अब त्रिवेंद्र सरकार ने उपनल नियमावली में संशोधन करके ग़ैर सैनिक आश्रित स्किल्ड युवाओंं के लिए भी उपनल केेे माध्यम से रोजगार के द्वार खोल दिए हैैं।

यह भी देखें- नेपाल का दूसरा झूठा दावा, कहा देहरादून और नैनीताल भी हमारा

मिली जानकारी के अनुसार यह निर्णय राज्य में लौटे हुए प्रवासी को रोजगार देने के मामले में लिया गया है। इस माध्यम से उन सभी स्किल्ड लोगों को रोजगार मिलेगा, जो सैनिक पृष्ठभूमि से नहीं है।

उपनल में सबके लिए खुले रोजगार के द्वार, त्रिवेंद्र सरकार ने किया उपनल नियमावली में संशोधन

उत्तराखंड त्रिवेंद्र सरकार ने कैबिनेट मीटिंग में इस निर्णय पर मुहर लगा दी है। इस मामले में अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी द्वारा आदेश जारी कर दिया गया है। अपर मुख्य सचिव द्वारा यह आदेश उत्तराखंड पूर्व सैनिक कल्याण निगम को भी भेजा गया है।

उपनल नियमावली में संशोधन होने के बाद त्रिवेंद्र सरकार ने बेरोजगार हो चुके पर प्रवासियों को उपनल के माध्यम से रोजगार देने के निर्देश दिए गए हैं। वही उपनल के माध्यम से हाउसकीपिंग, हॉस्पिटैलिटी, तकनीकी सेवाएं और स्वास्थ्य सेवाओं आदि क्षेत्रों में समकक्ष रोजगार देने के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी देखें- चमोली से दुखद खबर: वाहन की टक्कर से दो लोगों की मौत, चालक गिरफ्तार

उत्तराखंड सरकार द्वारा प्रवासियों को रोकने का यह अच्छा निर्णय लिया गया है, परंतु यह देखना होगा कि भूतपूर्व सैनिक संगठन इस मामले पर क्या राय रखते हैं। हालांकि सरकार ने स्पष्ट किया है कि इस मामले में प्राथमिकता भूतपूर्व सैनिक और उनके आश्रितों को ही दी जाएगी।