रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी का DRDO में चयन, परिजनों में खुशी की लहर

9
रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी का DRDO में चयन
फाइल फोटो

न्यूज़ डेस्क रुद्रप्रयाग. उत्तराखंड के लोगों ने हर जगह अपने प्रतिभा का लोहा मनवाया है और दूसरों के लिए एक प्रेरणा स्रोत के रूप में उभर आते हैं। ऐसी ही एक प्रेरणा स्रोत का हिस्सा बनी उत्तराखंड के होनहार बिटिया। जनपद रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी अब DRDO का हिस्सा बन चुकी है।

यह भी देखें- सिर्फ शादी करने के लिए धर्म परिवर्तन वैध नहीं – इलाहाबाद हाईकोर्ट

रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी का DRDO में चयन

रुद्रप्रयाग जिले के धनपुर पट्टी के ग्राम पंचायत पीड़ा खैरपाणी निवासी रीना कंडारी एक मध्यम परिवार से है उनके पिता हीरा सिंह कंडारी वाहन चालक तथा मां ग्रहणी है। बता दें कि हाईस्कूल परीक्षा में रीना ने राज्य में 20वां तथा इंटर में 10वां स्थान हासिल किया था। रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी का चयन अब रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन बेंगलुरु में वैज्ञानिक (बी) राजपत्रित अधिकारी के पद पर हुआ है।

इंटर पास करने के बाद रीना कंडारी का चयन गोविंद बल्लभ पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय पंतनगर के लिए हुआ। जहां ट्रेन आने कंप्यूटर साइंस से बेटे की पढ़ाई की। पढ़ाई पूरी होने के बाद रीना ने पौड़ी जिले में सूचना एवं विज्ञान अधिकारी पर 2 साल सेवाएं दी।

बचपन से ही रीना को वैज्ञानिक बनने का शौक था जिसे उसने आज अपने सपने को साकार कर दिया। तकनीकी क्षेत्र का हिस्सा बनने के लिए रीना ने डीआरडीओ की तैयारी की और उसमें उन्हें सफलता भी मिली।

रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी का DRDO में चयन
फाइल फोटो

रीना कंडारी का वैज्ञानिक (बी) के पद पर चयनित

बता दे रुद्रप्रयाग की रीना कंडारी का चयन रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन में वैज्ञानिक (बी) के पद पर हुआ है, जहां पर वह कंप्यूटर साइंस से संबंधित टेक्निकल का कार्य करेंगे।

आपको बता दे की रक्षा अनुसंधान एवं विकास संस्थान देश की रक्षा से जुड़े अनुसंधान कार्यों के लिए एक अग्रणी संस्था है और यह भारतीय रक्षा मंत्रालय की एक अनुशांगिक इकाई के रूप में कार्य करता है। संस्थान की अपनी 51 प्रयोगशालांए हैं।

यह भी पढ़े- उत्तराखंड: कोरोना मुक्त राज्य की तरफ अग्रसर, शानदार रिकवरी औसत

रीना कंडारी के DRDO में चयन से परिवार में खुशी की लहर है।लोगों ने खुशी जताते हुए इसे क्षेत्र के लिए गौरव की बात बताया।