महामारी को अवसर में बदलकर बांसी गांव के युवाओं ने श्रमदान कर बनाई 5 km सड़क

251

हिन्दू लाइव डेस्क – राज्य सरकार की उदासीनता का शिकार हुए रुद्रप्रयाग जिले के बांसी गांव केे युवाओं ने गांव को सड़क से जोड़ने के श्रमदान कर 5 किलोमीटर का संपर्क मार्ग बनाया.

उत्तराखंड राज्य के गठन के बाद भी राज्य में अभी कई गांव ऐसे हैं जहां मूलभूत सुविधाओं का अभाव है. आज भी राज्य में कई ऐसे गांव है जहां अभी तक सड़के नहीं पहुंची है.देश में फैल रही महामारी के दौरान काफी प्रवासी लोग अपने गांव वापस लौट गए हैं. जिस दौरान गांव वासी अपनी समस्या को स्वयं ही सुलझाने लग गये है.

image source: Twitter

बांसी गांव निवासी अनुराग सिंह राणा ने बताया कि अभी तक बनाए जा रहे संपर्क मार्ग को दो पहिया वाहनों के लिए तैयार किया जा रहा है. यदि रुद्रप्रयाग प्रशासन मदद करे तो इसे सभी तरह वाहनों के लिए बनाया जा सकता है.

यह भी पढ़े – Vocal for local: अल्मोड़ा में सालों से बंद पड़ी फैक्ट्री हुई चालू, बनेगा लोकल अचार, बुरांश जूस..

बांसी गांव के युवाओं ने श्रमदान कर बनाई सड़क

यह भी देखें – प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया में 10 अरब डॉलर का निवेश करेगा गूगल

जिला रुद्रप्रयाग के भरदार पट्टी के अंतर्गत ग्राम बाँसी के युवाओं का कमाल, आपदा को अवसर में बदला है. अनुराग सिंह राणा ने बताया कि शहरों से गांव लोटे प्रवासियों ने खाली समय में एक वाट्सऐप ग्रुप बनाया. जिसमें सभी बांसी गांव के युवाओं ने जुड़कर स्वयं गांव को सड़क से जोड़ने की ठानी. तत्पश्चात सभी युवकों ने गैंती फावड़ा लेकर रोड़ खोदना शुरू कर दिया.

ग्रामीणों ने उत्तराखंड सरकार व रुद्रप्रयाग प्रशासन से मदद मांगी है कि वह इस संपर्क मार्ग निर्माण की और ध्यान दें.