राज्य स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री की कई सौगातें, अस्थाई राजधानी देहरादून में खुलेगा अंतरराष्ट्रीय मेडिकल कॉलेज

1

उत्तराखंड में सोमवार को अस्थाई राजधानी देहरादून और ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में धूमधाम से राज्य स्थापना दिवस मनाया गया। उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भराड़ीसैंण आइटीबीपी और पुलिस बल की परेड की सलामी ली। इस मौके पर उत्तराखंड मुख्यमंत्री ने कई घोषणाएं की है।

यह भी पढ़े- उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने दी शुभकामनाएं

भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत कई नेताओं ने उत्तराखंड के स्थापना दिवस की शुभकामनाएं दी है। उत्तराखंड आज अपना 21 वां स्थापना दिवस मना रहा है ऐसे मौके पर उत्तराखंड मुख्यमंत्री ने उत्तराखंड के लिए कई सौगातें दी है।

राज्य स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री ने की घोषणा

1- उत्तराखंड आंदोलन की पहली मांग थी, वह यही थी कि गैरसैंण को उत्तराखंड की राजधानी बनाई जाए, परंतु पिछली सरकारों ने इस पर कुछ ज्यादा ध्यान नहीं दिया। उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किया। स्थापना दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री ने आने वाले 10 साल में 25000 करोड रुपए से गैरसैंण का विकास कार्य करने की घोषणा की है।

2- स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री ने स्वयं सहायता समूह को 5 लाख तक की खरीद में प्राथमिकता देने की घोषणा की है, जिसे स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा और पहचान मिल सके

3- उत्तराखंड में पलायन सबसे बड़ी समस्या है, इसको रोकने के लिए तमाम सरकारों द्वारा काफी प्रयास किए गए। स्थापना दिवस पर मुख्यमंत्री ने 500 पलायन करने वाले गांव के निवासियों और वहांं के स्वयं सहायता समूह को ब्याज फ्री लोन देने की घोषणा की है।

अस्थाई राजधानी देहरादून में साइंस कॉलेज खोलने की घोषणा

मुख्यमंत्री ने विज्ञान के क्षेत्र में उत्तराखंड को पहचान दिलाने के लिए देहरादून में अंतरराष्ट्रीय स्तर का साइंस कॉलेज खोलने की घोषणा की है। वही जिले में इको पार्क बायोडायवर्सिटी पार्क और जनपद किस तरह विकास प्राधिकरण के स्थापना की घोषणा की गई है।

  • स्थानीय उत्पादकों को प्रदेश और देश से बाहर भेजने के लिए राज्य की नियत नीति बनाई जाएगी।
  • शहरी क्षेत्रों में गरीब व्यक्ति को पेयजल कनेक्शन ₹100 में मिलेगा
  • भ्रष्टाचार रोकने के लिए नई फ्री हेल्पलाइन की शुरूआत की जाएगी
  • गर्भवती महिलाओं के लिए सौभाग्यवती योजना की शुरुआत
अस्थाई राजधानी देहरादून में खुलेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का साइंस कॉलेज

यह भी देखें- अल्मोडा़: डभरा सौराल गांव में सड़क का अभाव, ग्रामीणों की चेतावनी सड़क नहीं तो वोट नहीं

उत्तराखंड के सीमांत इलाकों में सुरक्षा की दृष्टि को देखते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पुलिस आउटपोस्ट बनाने की घोषणा की है, ताकि सीमांत इलाकों में सुरक्षा मजबूत होगी और स्थानीय लोगों को पलायन से राहत मिलेगी

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here