सोशल मीडिया पर कांग्रेसी नेता इंदिरा हृदयेश का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वह एक कार्यक्रम में A.C. ना होने कार्यक्रम संचालक को खरी-खोटी सुना रही है।

एक समय था जब राजनीति और राजनेताओं का एक ही उद्देश्य हुआ करता था, वो भी लोकसेवा लेकिन अब न केवल राजनीति के अपितु राजनेताओं के भी तेवर बदल गए हैं l अब लोकसेवा या लोकहित नहीं अपना हित और दल हित सर्वोपरि है l इसी के सन्दर्भ में कहावत बनी थी कि ‘अपना काम बनता तो भाड़ में जाए जनता’

पढे़- देहरादून में प्रवेश करने पर अपने खर्चे पर कराना होगा कोविड-19 टेस्ट

कार्यक्रम में A.C. ना होने पर पर सुनाई खरी-खोटी

कांग्रेसी नेता इंदिरा हृदयेश का वीडियो वायरल
image source social media

वायरल वीडियो के अनुसार कांग्रेस प्रतिपक्ष नेता इंदिरा हृदयेश किसी कार्यक्रम में ऐसी ना होने पर उन्होंने कार्यक्रम संचालक को काफी खरी-खोटी सुनाई है। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद इस पर राजनीति शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि में ऐसे प्रोग्राम पसंद नहीं करती। साथ ही उन्होंने कहा कि यदि कोई आपको अनुमति नहीं देता तो आप हमें बताते, हम आपको अनुमति दिलाते।

आम आदमी पार्टी ने लगाया आरोप

आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड ट्विटर अकाउंट से आज इसी क्रम में एक ट्वीट किया गया, “कांग्रेसी नेता इंदिरा हृदयेश इंदिरा हृदयेश जी को बिना एसी के आराम नहीं मिलता हैं l”
साथ ही एक वीडियो भी पोस्ट की जिसमें इंदिरा हृदयेश अपने समर्थकों के साथ बैठकर एसी की डिमांड कर रहे हैं l

यह भी देखें- कोरोना महामारी से जागरूकता ही बचाव, सजग सकारात्मक और स्वस्थ रहना ही बचाव


आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाते हुए कहा कि जनता के चुने हुए प्रतिनिधि यदि यह कहेंगे कि A.C. ना होने पर कोई काम नहीं होगा, तो प्रदेश की जनता की सेवा कैसे होगी? नेता यदि अपने ठाठ बाठ पर ही लगे रहे तो, जनता की वेदना कैसे समझेंगे