fbpx

उत्तराखंड में स्वरोजगार अपना रहे हैं युवा, जानिए इनके बारे में

हिंदू लाइव डेस्क, देहरादून:- भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा आत्मनिर्भर की बात करनेे पर उत्तराखंड के युवाओं पर खास असर हुआ है. उत्तराखंड के युवाओं ने स्वरोजगार की पहल करते हुए दूसरों को प्रेरणा दे रहेे हैं. उत्तराखंड केे प्रज्वल जोशी ने स्वयं स्वरोजगार करते हुए साथ में और लोगोंं को भी रोजगार दे रहे हैं.

उत्तराखंड में स्वरोजगार

यह भी पढ़िए :- स्वरोजगार स्थापित कर लोगों को दिया प्रेरणा, मुख्यमंत्री ने की तारीफ

जानिए प्रज्वल जोशी के बारे में

उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल जिले के रहने वाले प्रज्वल जोशी ने हाल में ही अपनी ग्रेजुएशन पास किया था. सोशल मीडिया पर इनका कार्य देखने के बाद हमारी हिंदू लाइव टीम ने उनसे बात की. जहांं उन्होंने बताया कि उन्होने दो तीन जगह पर काम किया था, लेकिन वह काम उन्हें पसंद नहीं आया.

प्रज्वल जोशी और उनके दोस्तों को बचपन से ही उत्तराखंड से लगाव था, जिसके कारण वह उत्तराखंड को को छोड़कर नहीं जाना चाहते. प्रज्वल जोशी ने अपने दोस्तों के साथ एमडीडीए केदारपुरम टिहरी हाउस देहरादून के नजदीक एक छोटा रोजगार शुरू किया. जहां लोगों के लिए फास्ट को तैयार करते हैं.

इस कार्य के लिए इन्होंने कुमाऊं मंडल में जाकर कुछ दिन और ट्रेनिंग ली. 2 फरवरी से इन्होंने अपना कार्य शुरू कर दिया था, परंतु बीच में लोग डाउन होने की वजह से इनका कार्य बंद हो गया. लॉक डाउन में छूट मिलने के बाद इन्होंने अपना कार्य पुनः शुरू कर दिया है. यहां पर राज्य सरकार की दी हुई गाइडलाइन का पूरा पालन हो रहा है

यह भी देखें :- केदारनाथ धाम में हो रहे कार्य का प्रधानमंत्री ने किया अवलोकन

हालांकि कई लोग इनके मजाक उड़ाते हैं परंतु इन लोगों ने अपने हौसले छोटे नहीं किए. बात करने पर उन्होंने बताया कि हम भी दिल्ली मुंबई में नौकरी करने जा सकते हैं, हमें उत्तराखंड मैं ही रहना है, और इसी में हम खुश है.

आज सुबह ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वरोजगार के कार्यों के लिए उत्तराखंड के युवाओं की तारीफ की. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में स्वरोजगार की एक मुख्य भूमिका है, जिससे उत्तराखंड में पलायन रोका जा सकता है.

सोशल मीडिया पर उनके द्वारा किए गए इन कार्यों की काफी तारीफ हो रही है. यदि इसी तरह उत्तराखंड के युवा स्वरोजगार की तरफ ध्यान देंगे, तो उत्तराखंड में पलायन की समस्या काफी हद तक रोक सकती है