चारधाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की संख्या को लेकर देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड ने लिया निर्णय

Uttarakhand Char Dham

उत्तराखंड सरकार ने पर्यटन को लेकर नई गाइडलाइन में काफी राहत दी है जिसके बाद से ही चारधाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। देवस्थानम बोर्ड ने यात्रियों की संख्या में हुई बढ़ोतरी को लेकर अब निर्धारित संख्या को बढ़ा दिया है।

यह भी देखें- उत्तरकाशी में कोरोनावायरस मामलों में तेजी, 1 दिन में 100 से ज्यादा मामले, 14 क्षेत्र सील

देवस्थानम बोर्ड ने बद्रीनाथ और केदारनाथ धाम में 1 दिन में तीन-तीन हजार, गंगोत्री में 900 और यमुनोत्री में 700 श्रद्धालु अब दर्शन कर सकते हैं।

देश का नाम बोर्ड का यह निर्णय आज सोमवार से लागू हो गया है। चारधाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी से पहले देवस्थानम बोर्ड द्वारा रुद्रप्रयाग, चमोली और उत्तरकाशी के जिलाधिकारियों से इस मामले में रिपोर्ट मांगी गई थी। जिसके बाद ही चार धाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी की गई है। चार धाम यात्रा पर आने के लिए देवस्थानम बोर्ड की वेबसाइट पर पंजीकरण कर ईपास लेना अनिवार्य है।

चारधाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की संख्या को लेकर देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड ने लिया निर्णय

चारधाम यात्रा पर श्रद्धालुओं को लेकर निर्धारित संख्या

धाम पहले निर्धारित संख्या अब निर्धारित संख्या
बद्रीनाथ 12003000
केदारनाथ8003000
गंगोत्री600900
यमुनोत्री450700

देवस्थनाम बोर्ड के जारी आंकड़ों के अनुसार अब तक लगभग 95000 पास जारी हो चुके हैं, वही 50000 तीर्थ यात्रियों ने चारों धामों में दर्शन कर चुके हैं सरकार द्वारा कोरोना को लेकर जारी दिशा निर्देश के बाद तीर्थ यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही है।

यह भी पढ़े- देहरादून सामुहिक दुष्कर्म मामला: महिला की मेडिकल जांच में नहीं हुई दुष्कर्म की पुष्टि

तेजी से बढ़ रही यात्रियों की संख्या से स्थानीय लोगों के रोजगार पर भी अच्छा प्रभाव पड़ेगा। वहीं जिला प्रशासन इस मामले में व्यवस्थाओं को लेकर सजग है। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में इन संख्याओं में तेजी से बढ़ोतरी होगी।