उत्तरकाशी जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने सपरिवार किए गंगोत्री धाम के दर्शन

न्यूज डेस्क उत्तरकाशी- हाल में ही उत्तरकाशी स्थानांतरित हुए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने सपरिवार गंगोत्री धाम पहुंचे। उत्तरकाशी जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने पुरोहितों की समस्याओं का समाधान का आश्वासन दिया तथा हर्षिल घाटी में हो रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया।

यह भी पढ़े- दूसरे समुदाय की लड़की से दोस्ती करने पर युवक को पीट पीट कर मार डाला

उत्तरकाशी जिलाधिकारी सपरिवार गंगोत्री धाम पहुंचे, जहां उन्होंने गंगोत्री मंदिर और गंगा घाट पर विशेष पूजा अर्चना की। जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने तीर्थ पुरोहितों के साथ बैठ कर उनकी समस्याएं सुनी तथा जल्द ही उनके समस्याओं का समाधान करने का आश्वासन दिया। गंगोत्री धाम मैं दर्शन करने के बाद जिलाधिकारी ने हर्षिल घाटी में हो रहे निर्माण कार्यों का निरीक्षण भी किया।

गंगोत्री धाम में पूजा अर्चना के साथ जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने वंशानुगत पोथी में अपने पूर्वजों का नाम देखा, जिसके बाद तीर्थ पुरोहित शिव प्रसाद सेमवाल ने वंशानुगत पोथी में जिलाधिकारी व उनकी पत्नी का नाम भी दर्ज किया।

जिलाधिकारी को तीर्थ पुरोहितों द्वारा ज्ञापन दिया गया, जिसमें तीर्थ पुरोहितों ने कहा कि गंगोत्री धाम में अभी तक भूमि बंदोबस्त नहीं किया गया, साथ ही मुख्य जांगला मोटर मार्ग का निर्माण किया जाए।

यह भी देखें- चीन की विस्तारवादी नीतियों को सिर्फ भारत ही रोक सकता है – रिपोर्ट

गंगोत्री धाम में दर्शन करने के पश्चात जिलाधिकारी हर्षिल और बगोरी गांव पहुंचे, जिला अधिकारियों ने बगोरी गांव में स्थानीय बुनकर उद्योग से जुड़े लोगों और काश्तकारों से बातचीत की। इस दौरान जिलाधिकारी ने सरकारी भवनों का भी निरीक्षण किया। वहीं जिलाधिकारी की पत्नी ने ग्रामीण महिलाओं से उनके बनाए और उसकी बारीकियों के बारे में जानकारी ली।

भुप्पी पंवार: Editor of Hindu live .