उत्तरकाशी: ग्राम सौरा के निवासियों ने कोरोना की रोकथाम के लिए बनाए नियम

न्यूज डेस्क उत्तरकाशी – राज्य में कोरोना वायरस केे फैलते संक्रमण को देखते हुए उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के भटवाड़ी ब्लॉक के ग्राम सौरा वासियों ने मिलकर एक कदम उठाया है जो वाकई काबिलेेे तारीफ है .

ग्राम सौरा वासियों ने बैठक में लिया निर्णय

उत्तरकाशी जिले के भटवाडी़ ब्लॉक के सौरा गांव में आज ग्रामीण वासियों द्वारा बैठक रखी गई, जिसमें गांव के विकास कार्य और कोरोना वायरस जैसे मुद्दों पर ग्रामीण वासियों द्वारा चर्चा की गई. जिस दौरान ग्रामीण वासियों ने कोरोना वायरस कोो फैलने से रोकनेेे के लिए कई महत्वपूर्ण कदम लिए.

यह भी पढ़े – वरुणाघाटी के विकास कार्यों को लेकर युवा नेता आनंद सिंह पंवार ने जिला पंचायत सदस्या श्रीमती सरिता चौहान से की मुलाकात

कोरोना वायरस रोकथाम के लिए उठाया महत्वपूर्ण कदम

ग्राम सभा के प्रधान श्री सोहनपाल ने बताया कि कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए बैठक में कई निर्णय लिये गये, जिसमें गांव में दूसरे क्षेत्रों से आने वालों के लिए प्रधान की अनुमति अनिवार्य कर दी गयी है. यदि गांव का कोई आदमी गांव के क्षेत्र को छोड़कर किसी कारणवश बाहर जाना पड़े तो उन्हें भी अनुमति लेना अनिवार्य है.

ग्राम सौरा के मुख्य द्वार पर तैनात होंगे दो ग्रामीण युवक

ग्रामसभा सौरा द्वारा यह निर्णय लिया गया कि गांव में प्रत्येक परिवार से एक व्यक्ति मुख्य द्वार पर तैनात रहेगा. प्रतिदिन मुख्य द्वार पर दो युवकों की तैनाती की जायेगी. तैनाती के लिए युवकों को चयनित करने की जिम्मेदारी उपप्रधान को दे दी गई है. रक्षाबंधन को देखते हुए ग्राम प्रधान ने आ रही बहनों से आग्रह किया कि सभी लोग प्रधान की अनुमति लेकर ही गांव में प्रवेश करें.

यह भी पढ़े – उत्तराखंड के 5 जिलों में कोविड-19 पर शानदार रिकवरी औसत, देखिए एक रिपोर्ट

आसपास के ग्राम प्रधानों से भी की अपील

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए ग्राम सौरा के ग्राम वासियों ने आसपास के ग्राम प्रधानों से इस मामले में सहयोग करने की अपील की है.