पिथौरागढ़: अग्निवीर भर्ती में फर्जी प्रमाण पत्रों के साथ पकड़ा गया युवक

उत्तराखंड में इन दिनों अग्निपथ योजना के तहत भर्ती रैली का आयोजन हो रहा है। कोटद्वार तथा रानीखेत के बाद 5 सितंबर से चंपावत तथा पिथौरागढ़ जनपद के युवाओं के लिए जनरल बीसी जोशी आर्मी पब्लिक स्कूल के मैदान में भर्ती शुरू की गई है। इस दौरान कुछ ऐसे युवक भी पकड़े गए जो फर्जी दस्तावेजों के सहारे सेना भर्ती में शामिल होने की कोशिश कर रहे थे। ऐसा ही एक युवक पिथौरागढ़ जनपद से गिरफ्तार किया गया है जो अग्निवीर भर्ती परीक्षा में फर्जी प्रमाण पत्रों के साथ भर्ती रैली में शामिल होने आया था। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

अग्निवीर भर्ती में फर्जी प्रमाण पत्रों

पिथौरागढ़ पुलिस के अनुसार बीते सोमवार को दीपक सिंह जैमुवाल पुत्र लक्ष्मण सिंह जैमुवाल निवासी ग्राम पोस्ट नामिक मुनस्यारी, जिला पिथौरागढ़ अग्निवीर भर्ती रैली में शामिल होने आया था। संदिग्ध लगने पर पर आर्मी आर्मी भर्ती ग्राउंड में जांच की गई तो युवक के पास दो आधार कार्ड, दो हाईस्कूल की अंक तालिका, जन्म प्रमाण पत्र, आदि बरामद हुए और सभी में उसकी जन्मतिथि अलग अलग (01/03/1999 एवं 01/08/2003) मिली। जिसकी सूचना कोतवाली पिथौरागढ़ पुलिस को दी गई।

यह भी पढ़ें- Ranikhet bharti rally‌: ताहिर के फर्जी दस्तावेज बनाने पर CSC संचालक नसीर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

 

कोतवाली पिथौरागढ़ पुलिस ने युवक से पूछताछ की तो उसके द्वारा बताया गया कि मेरी अग्निवीर भर्ती हेतु आयु निकल गई थी जिस कारण मेरे द्वारा यह जाली कागज तैयार किए और अपनी उम्र कम करवा कर अपनी जन्मतिथि 01/08/2003 कराई गई और अग्निवीर भर्ती हेतु अपना फार्म सबमिट कराया। पुलिस टीम द्वारा उक्त युवक को गिरफ्तार कर उसके विरुद्ध कोतवाली पिथौरागढ़ में मुकदमा धारा 467/468/471 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया। अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: अग्निवीर भर्ती के लिए दो भाईयों ने बनाए फर्जी दस्तावेज, ऐसे हुआ खुलासा

पुलिस अधीक्षक पिथौरागढ़ के निर्देशन में, फर्जी प्रमाण पत्रों के साथ भर्ती परीक्षा में सम्मिलित होने वाले अराजक तत्वों पर पिथौरागढ़ पुलिस द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही है । ऐसे लोगों के विरूद्ध शख्त कानूनी कार्यवाही की जायेगी। गिरफ्तार टीम में मंगल सिंह, दिनेश सिंह तथा योगेश कुमार शामिल थे।