उत्तराखंड

उत्तराखंड: कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष की जनसभा से पहले हुआ कांग्रेसियों का हंगामा

उत्तराखंड में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुलिस मुख्यालय के बाहर जमकर हंगामा किया। यह कार्यकर्ता कई घंटो तक लगातार पुलिस कार्यालय के बाहर हंगामा कर रहे थे। दरअसल बीते दिनों कांग्रेसी नेता मल्लिकार्जुन राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार उत्तराखंड आने वाले थे और आने की ख़बर सुनने के बाद से ही प्रदेश के सारे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के बीच खुशी की लहर दौड़ उठी, वे राष्ट्रीय अध्यक्ष के आने से बेहद उत्साहित थे। 

जनसभा होने से पहले ही पुलिस लाइन ने मेन मौके पर ही राष्ट्रीय अध्यक्ष के हेलीकॉप्टर लैंडिंग की अनुमति नहीं दी गई जिसके बाद से ही गुस्साए कार्यकर्ताओं ने लंबे समय तक हंगामा किया। गुस्साए लोगों ने पूरा पुलिस मुख्यालय ही चारों तरफ़ से घेर लिया। मामला जब हाथ से निकला तब जाकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मामले में दख़ल दी और मुख्यमंत्री ने मामले को शांत करवाया और राष्ट्रीय अध्यक्ष के हेलीकॉप्टर को उतारने की अनुमति दे दी।

मामले की शुरुआत तब हुई जब शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष करन महारा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना जनसभा की रैली और की तैयारी देखने पुलिस लाइन पहुंचे जहां उन्हें यह पता चला की हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति को ख़ारिज कर दिया गया है तो उन्होंने एसएसपी अजय सिंह से बात करने की कोशिश की मगर किसी मीटिंग में व्यस्त होने की वज़ह से उनकी बातचीत नही हो पाई।

उत्तराखंड कांग्रेस

उसके बाद उन्होंने बताया कि आगे उन्होंने डीजीपी अभिनव कुमार को फोन किया लेकिन वो भी बाहर थे जिसके बाद उन्हें एडीजी से बात करने को कहा गया। जब एडीजी से बात हुई तो उन्होंने मामले में जल्द करवाई करने की बात कही और बात बात करते वो पुलिस मुख्यालय पहुंचे जहां बात करने पर उनको यह समझ आ गया की यहां कोई बात नही बनेगी जिसके बाद करन माहरा नेधरने पर बैठने की बात कही।

उसके बाद मामले में संज्ञान लेते हुए अधिकारियों ने मामले को सही करने की कोशिश की मगर बात नही बनी उसके बाद बात सीएम साहब तक पहुंची जिन्होंने प्रतिपक्ष आर्य, प्रदेश अध्यक्ष माहरा से फोन पर बात की और आश्वासन देते हुए हेलीकॉप्टर की अनुमति दे दी। कुछ इस तरह मामले को सुलझा दिया गया।

Editorial

This article was written by the Hindu Live editorial team.
Back to top button