उत्तराखंड

शराब के नशे में गया पत्नी के पास तो महिला ने स्टील की रॉड से उतारा मौत के घाट

उत्तराखंड के नैनीताल जनपद से हैवानियत की हदें पार कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां शराब के नशे में व्यक्ति पत्नी के पास गया तो पत्नी ने स्टील की रॉड से पीट-पीटकर पति की हत्या कर दी। पति करीब 6 घंटे तक दर्द से तड़पता रहा लेकिन पत्नी की दिल फिर भी नहीं पसीजा। इतने से मन नहीं भरने के बाद आरोपी पत्नी ने पति को घसीटकर कमरे से छह सीढ़ी नीचे लाकर छोड़ दिया। वहीं जब बेटा स्कूल से घर वापस लौटकर आया तो महिला ने उसे भी पति की मदद नहीं करने दी और बेटे को डरा धमकाकर कमरे में बैठाए रखा। देर शाम किसी तरह बेटा नीचे आया और ताई और पूरी कहानी बताई। जब तक वह तीसरे मंजिल तक पहुंच तब तक व्यक्ति की मौत हो गई थी। जिसके बाद मृतक के भाई ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पत्नी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। आज मृतक के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

जानकारी के अनुसार लक्ष्मण सिंह मनवाल (46) निवासी देवलचौड़ बंदोबस्ती सिटी में सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था। सोमवार को वह काम पर नहीं गया था। पुलिस पूछताछ में हत्यारोपी पत्नी गीता भनवाल ने बताया कि सोमवार को 10 वर्षीय बेटा दिव्यांशु स्कूल गया था और वह घर पर अकेली थी। ‌ दोपहर करीब 1:00 बजे उसका पति शराब के नशे में धुत होकर घर पहुंचा और कपड़े उतार कर उसके करीब आने की कोशिश करने लगा जिसे लेकर दोनों में कहासुनी हो गई। आवेश में आकर उसने स्टील की रोड से पति के सीने पर सिर पर छह सात वार कर दिए। दोपहर बाद जब बेटा घर लौटा तो पिता को सीढ़ियों में खून से लथपथ पड़े देखा। बेटे ने पिता को अस्पताल ले जाने की जिद की लेकिन गीता ने उसे कमरे से बाहर नहीं आने दिया। घायल लक्ष्मण सिंह घंटों तक सीढ़ियों पर पड़ा रहा लेकिन गीता का दिल नहीं पसीजा। देर शाम बेटे ने पिता की मौत की सूचना अपने ताई को दी, लेकिन जब तक वहां पहुंचे तब तक लक्ष्मण की मौत हो चुकी थी। वहीं देर रात सूचना पर सीओ सिटी भूपेंद्र सिंह धौनी, कोतवाल हरेंद्र चौधरी, टीपी नगर चौकी इंचार्ज पंकज जोशी मौके पर पहुंचे और हत्यारोपित पत्नी को हिरासत में ले लिया। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया है। 

 

Editorial

This article was written by the Hindu Live editorial team.

Related Articles

Back to top button