उत्तरकाशी पुलिस ने निभाया मानवता का धर्म, तीर्थयात्री का किया अंतिम संस्कार

Hindulive.Com
2 Min Read

इस समय उत्तराखंड में चारधाम यात्रा शुरू हो चुकी है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु चारों धामों में पहुंच रहे हैं। ऐसे में यात्रा के दौरान पुलिस के जवान पुरे श्रृद्धाभाव से तीर्थंयात्रियों की सेवा व सुरक्षा में जूटे है। यातायात, क्राउड मैनेजमेंट व लॉ इन ऑर्डर ड्यूटी के साथ-साथ पुलिस श्रद्धालुओं की हर संभव मदद कर रही है। इसी दौरान मानवता का धर्म निभाते हुए उत्तरकाशी पुलिस का मानवीय चेहरा सामने आया है। उत्तरकाशी स्थित यमुनोत्री धाम में एक श्रद्धालु के आकस्मिक निधन होने और परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने की स्थिति को देखकर पुलिसकर्मी ने तीर्थयात्री का अंतिम संस्कार कराया।

यह भी पढ़ें- JEEP 2023: Polytechnic में प्रवेश के लिए आवेदन शुरू, जान लें आवेदन की अंतिम तारीख

जानकारी के मुताबिक खंडवा, मध्य प्रदेश निवासी एक श्रद्धालु प्रमोद जोशी, उम्र 62 वर्ष अपने परिवार जनों के साथ चारधाम यात्रा पर आये थे। यमुनोत्री धाम यात्रा के दौरान कल 26.04.2023 की सांय को यमुनोत्री के मुख्य पड़ाव जानकीचट्टी में हृदय गति रुकने से उनकी आकस्मिक मृत्यु हो गई थी। तीर्थयात्री की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण SHO बड़कोट, गजेन्द्र बहुगुणा व उनकी पुलिस टीम द्वारा मानवता का परिचय देते हुये श्रद्धालु प्रमोद के शव को बड़कोट लाकर नगरपालिका एवं स्थानीय जनता के सहयोग से बड़कोट के तिलाड़ी घाट पर हिन्दू रीति रिवाज़ के साथ दाह संस्कार किया गया। परिजनों द्वारा उत्तरकाशी पुलिस के जवानों, नगरपालिका कर्मियों एवं देवतुल्य जनता के लोगों का आभार प्रकट किया गया।

Share This Article
Follow:
This article was written by the Hindu Live editorial team.